टूर्नामेंट के माध्यम से शहीदों की यादें ताजा रहेंगी:IG मूलचंद पंवार - Shivpuri News

शिवपुरी । पुलबामा शहीदों की स्मृति में चल रहे क्रिकेट टूर्नामेंट के समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की आसंदी से सीआरपीएफ के आईजी मूलचंद पंवार एवं अध्यक्षता म.प्र. व्यापम के सदस्य आलोक एम इंदौरिया, विशिष्ठ अतिथि के रूप में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया उपस्थित रहे। सर्व प्रथम अतिथियों द्वारा पुलबामा शहीदों को याद करते हुए उन्हें पुष्प चक्र भेंट कर उन्हें याद किया।

इस अवसर पर आईजी श्री पंवार ने कहा कि शिवपुरी में पुलबामा के शहीदों को लेकर किए गए इस आयोजन की में सराहना करता हूं साथ ही मेरी यह कामना हैं कि यह आयोजन प्रतिवर्ष होते रहना चाहिए। इससे जहां शहीदों की यादें ताजा रहेंगी। वहीं देश प्रेम की भावना भी बलबती होगी। कार्यक्रम के अध्यक्ष समाजसेवी आलोक एम इंदौरिया ने आयोजन समिति को इस शानदार आयोजन के लिए बधाई देते हुए कहा कि हमारे शिवपुरी की युवा जितना अपने देश से प्यार करते हैं उतना ही प्यार और सम्मान इस देश के लिए मरमिटने वाले शहीदों से भी करते हैं।

लगातार तीसरे वर्ष इस कार्र्यक्रम को आयोजित किया जाना इस बात को प्रदर्शित करता हैं कि हमारे शिवपुरी के युवाओं में देश प्रेम का कितना जजवा हैं। कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि एडिशन एसपी प्रवीण भूरिया ने भी मुक्त कंठ से इस कार्यक्रम की सराहना की और कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से जहां शहीदों के शहाद को आम जनता नमन करती हैं। वहीं खेल प्रेम की भावना के द्वारा भी हमारा सम्प्रदायित्व सौहार्द मजबूत होता हैं। देश की एकता और अखण्डता के लिए यह बहुत आवश्यक हैं। इस अवसर पर टूर्नामेंट में पधारे जवानों का शील्ड प्रदान कर उन्हें सम्मान किया गया।

पिछले सात दिन से चल रहे क्रिकेट टूर्नामेंट के अंतिम का मैच बूम बूम एवं यूनिक के बीच खेला जिसमें यूनिक ने टॉस जीत कर बूम-बूम ने पहले बल्ले बाजी करते हुए 160 रन का स्कॉर खड़ा किया। वहीं यूनिक ने बल्लेवाजी करते हुए 90 रन पर ऑल आउट हो गई। बूम-बूम ने यह मुकाबला 70 रन से जीत हांसिल की। जिसका प्रथम पुरूस्कार शहर कांग्रेस अध्यक्ष मोहित अग्रवाल की ओर 21 हजार रूपए का पुरूस्कार दिया गया।

वहीं द्वितीय पुरूस्कार 11 हजार रूपए शिवा श्याम पाराशर के द्वारा दिया गया। मैच की कॉमेन्ट्री गिरीश मिश्रा मामा, एवं कमल बाथम शेरा द्वारा की गई। उक्त टूर्नामेंट का आयोजन सागर यादव एवं उनकी सहयोगी टीम जिसमें नाजिर खांन, रवि सैन, विशाल सोनी, रितिक शर्मा, शनी धाकड़, अमित, रितूराज धाकड़, राजू शर्मा, लालू शर्मा किया जा रहा हैं।