बंदूक दिखाकर 69 वर्षीय बुर्जुग को दी डॉ सुनील तोमर और मोनू भगवती ने दी धमकी: मामला दर्ज - Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शहर के सिटी कोतवाली क्षेत्र के फतेहपुर रोड से आ रही है। जहां आज एक पीडित पक्ष ने शहर के एक शासकीय चिकित्सक सहित जमीन के कारोबारी मोनू भगवती ,इदरीश खान सहित एक अज्ञात रायफल धारी के खिलाफ घर में घुसकर जान से मारने की धमकी देने की शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले में पुलिस ने आरोपीयों के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है।

पीडित भानू प्रताप सिंह तोमर पुत्र बुद्ध प्रताप सिंह तोमर उम्र 69 साल निवासी फतेहपुर रोड ने कोतवाली में शिकायत करते हुए बताया है कि उसके घर बीते रोज डॉ सुनील तोमर अपने साथी मोनू भगवती,इदरीश खान और एक अज्ञात रायफल धारी के साथ उसके घर पहुंचे।

जहां घर पहुंचकर डॉ सुनील तोमर उसके साथियों से पीडित से कहा कि उसके सर्वे नंबर 933 की रजिस्ट्री उन्होंने 1 करोड 76 लाख रूपए में करा ली है। अब तुम उस जमींन पर दिख नहीं जाना। जिसपर से पीडित ने उसे कहा कि वह जमींन तो उसकी पत्नि के नाम पर है।

जिसपर डॉ सुनील तोमर ने अपने मोबाईल से फोन लगाकर कहा कि हमें कोठी बालों ने भेजा है। अगर तुम उस जमींन पर पहुंचे तो तुम्हे अपने बेटे की जान से हाथ धोना पडेगा। उसके बाद सुनील तोमर ने अपने मोबाईल से फोन लगाकर कहा कि यह बात कर ले।

जिसपर पीडित ने पूछा कि किससे बात करा रहा है। तो आरोपी ने कहा कि कोठी बाले है। जिसपर से पीडित ने बात करने से इंकार कर दिया। उसके बाद तीनों आरोपी उसे धमकाते हुए वहां से आ गए। इस मामले की शिकायत पीडित ने पुलिस थाना कोतवाली में की। जहां पुलिस ने इस मामले में चारों आरोपीयों के खिलाफ धारा 451,506,504,34 ताहि के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है।

कौन है डॉक्टर सुनील तोमर
डॉक्टर सुनील तोमर बीते चार साल पहले शिवपुरी के जिला चिकित्सालय में पदस्थ हुआ था। उसके बाद जिला चिकित्सालय में एक आरक्षक की मौत के बाद हुए हंगामें के बाद यह डॉक्टर सुर्खियों में रहा था। उस समय इस डॉक्टर ने बाथरूम में छुपकर अपनी जान बचाई थी।

बताया जा रहा है कि उसके बाद यह डॉक्टर शहर के एक प्रायवेट चिकित्सालय में साईलेंट पार्टनर बन गया। कुछ समय बाद यह तत्कालीन प्रभारी मंत्री का करीबी हो गया। वहां से प्रारंभ हुआ डॉक्टर सुनील तोमर का जमीन कारोबारियो से संपर्क।

माफिया बनते ही यह डॉ. शहर के विबादित जमींन के कारोबार में अपना पैसा इन्बेस्ट करने लगा। अभी हाल ही में होटल पीएस के सामने की विबादित जमींन में भी डॉ सुनील तोमर का नाम आया।