शिवपुरी में लगेगी सॉस-जैम, बनाने की 5 फैक्ट्री लगाने का लक्ष्य, सब्सिडी के साथ मिलेगा यह लाभ - Shivpuri News

शिवपुरी।जिले की तीन तहसील शिवपुरी, पोहरी और कोलारस में किसान टमाटर उत्पादन बड़ी मात्रा में ले रहे हैं। पिछले एक दशक में टमाटर उत्पादन काफी बढ़ा है। इसी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ने जिले में टमाटर से उत्पाद बनाने की यूनिट लगाने पर जोर दिया है।

इस साल 5 यूनिट लगाने का लक्ष्य आया है। किसान अथवा अन्य कोई भी व्यक्ति टमाटर से पल्प निकालने के साथ सॉस, जैम, कैचअप आदि उत्पाद भी बना सकते है।

इस साल 8 हजार हैक्टेयर में टमाटर का उत्पादन

उद्यानिकी विभाग के आंकड़ों के अनुसार इस साल जिले में 8 हजार हैक्टेयर में किसानों ने टमाटर का उत्पादन लिया है। हालांकि पिछले साल 10 हजार हैक्टेयर में उत्पादन हुआ था।
25 -25 लाख रुपए तक लागत की पांच यूनिट लगाने पर प्रदेश सरकार हितग्राहियों को 10-10 लाख रुपए की सब्सिडी के साथ-साथ बैंक ब्याज में 3% की छूट भी देने जा रही है।

सब्सिडी के साथ ब्याज में राहत मिलने से किसान अथवा पात्र हितग्राही आसानी से यूनिट स्थापित कर सकेगा। खास बात यह है कि यूनिट स्थापित होने से लोगों को रोजगार मिलेगा और किसानों को भी टमाटर के बेहतर दाम मिल सकेंगे। इस साल पांच यूनिट लगाने का लक्ष्य है। नए वित्तीय साल में यूनिट लगाने के लिए लक्ष्य बढ़ने की उम्मीद है।

किसान जिले में बेच सकेंगे टमाटर

टमाटर से पल्प निकालकर सॉस, जैम, कैचअप आदि बनाने के लिए 5 यूनिट लगाने का लक्ष्य जिले में मिला है। यूनिट लगने पर किसान जिले में ही अपना टमाटर बेच सकेंगे। पल्प बेचकर भी मुनाफा कमाया जा सकता है। एके राजपूत, सहायक संचालक, उद्यानिकी विभाग शिवपुरी