नर्स पर हमले की स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने की निंदाः कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन - Shivpuri news

शिवपुरी। जिला चिकित्सालय में प्रसव के दौरान मृत महिला के परिजनों के द्वारा स्टाफ नर्स के साथ की गई मारपीट की घटना को लेकर मध्यप्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ में रोष व्याप्त रहा।

इस मारपीट की घटना की निंदा करते हुए यदि स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोई कार्यवाही की जाए तो उसमें भेदभाव ना हो और समान कार्यवाही हो इस मांग को लेकर मध्यप्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष मनोज भार्गवए जिला चिकित्सालय अध्यक्ष राजीव पुरोहितए प्रमोद कटारेए श्रीमती अल्का श्रीवास्तव के निर्देशन में एक ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा गया।

इस ज्ञापन में मध्यप्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ द्वारा मांग की गई कि दिनांक 4 जनवरी को उपस्थित स्टाफ प्रियंका राजे एवं शिवाली मोरीत के साथ मरीज के परिजनों द्वारा गली.गलौज व अभद्र व्यवहार तथा मारपीट कर शासकीय कार्य में व्यवधान किय गया जबकि यहां पदस्थ महिला चिकित्सक डॉ.इंदु जैन के निर्देशों के अनुपालन में स्टाफ नर्स सेवाऐं दे रह थी तथा अंतकाल में डॉ.मोना गुप्ता भी उपस्थित रहीं।

ऐसे में यहां मरीज फरजाना बानो की प्रसव के दौरान मौत हो गई और मौत के बाद उसके परिजनों द्वारा स्टाफ नर्स के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया।

इन हालातो में मप्र स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने स्टाफ नर्स सहित जिला चिकित्सालय परिसर में पुलिस सुरक्षा व्यवस्था की मांग और स्टाफ नर्स पर यदि कोई कार्यवाही हो तो संबंधित चिकित्सकों पर भी कार्यवाही की जावेए इसमें कोई भेदभाव नहीं हो क्योंकि स्टाफ नर्स चिकित्सकों के निर्देशों का पालन कर रहीं थी, साथ ही अस्पताल में एक चार का पुलिस गार्ड लगाए जाने की मांग भी मध्यप्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने जिला प्रशासन की और इस संदर्भ में जिला कलेक्टर को ज्ञापन भी सौंपा गया।

मामले में मरीज के परिजनों पर भी पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग की गई। इस दौरान स्टाफ नर्स ने अपनी असुरक्षा के भाव को देखते हुए कार्य करने से इंकार भी कर दिया इनमें स्टाफ नर्स राहिल निशि, ममता वासनिक, प्रियंका राजे, शिवाली मोहिते, अंजली, रानी झा, अंाचल सिंह, भूरी, ममता, दुर्गेश साहू व अनीता आदि शामिल रही ।