प्रस्तावित न्यायालय व कलेक्ट्रेट भवन की जमीन से हटाए 2 दर्जन से अधिक अतिक्रमण - Shivpuri News

शिवपुरी। प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत आज शिवपुरी जिला प्रशासन द्वारा फोरलाईन पर न्यायालय भवन के लिए चिन्हित की गई जगह पर एक दर्जन से अधिक अतिक्रमणकारियों ने अपने टपरे और स्टॉल रखकर होटल एवं मिस्त्रि की दुकानें चालू कर अतिक्रमण कर लिया था। 

जिससे प्रस्तावित न्यायालय भवन की जमीन पर लगातार अतिक्रमण होता जा रहा था। इस कब्जे को हटाने के लिए तहसीलदार द्वारा पूर्व में इन अतिक्रमण कारियों को सूचना दी गई की अपने-अपने अतिक्रमण हटा लें लेकिन अतिक्रमणकारियों द्वारा नहीं हटाया।

तहसीलदार बीएस कुशवाह ने बताया कि चार दिन पूर्व इन फोर लाईन हाईवे पर हो रहे न्यायालय व कलेक्ट्रेट भवन की जमीन पर लगातार अतिक्रमण होने की सूचनायें मिल रही थी। इस सूचना पर हमने गुरूवार को इन अतिक्रमण कारियों को अपने दुकान एवं स्टॉलों को हटाने के लिए कहा गया था, लेकिन इन्होंने नहीं हटाए इसलिए आज नगर पालिका के मदाखलन दस्ते को लेकर इन सभी अतिक्रमण कारियों को बल पूर्वक स्टॉल और टपरों को हटाया गया हैं। 

इतना ही नहीं यदि आगे यह लोग अतिक्रमण करते हैं तो इनके खिलाफ वैधानिक कार्यवाही भी की जाएगी। इस कार्यवाही में नगर पालिका के अमले सहित यातायात प्रभारी रणवीर यादव सहित नगर पालिका पूरा दस्ते के कर्मचारी साथ रहे। 

अतिक्रमणकारी आर्थिक रूप से कमजोर हैं इसलिए नहीं लगाया जुर्माना: कुशवाह 

तहसीलदार श्री कुशवाह ने बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों ने फोर लाईन व न्यायालय भवन की जमीन पर अतिक्रमण किए हैं। 

इन लोगों अतिक्रमणों को जरूर हटाया जा रहा हैं, लेकिन इन लोगों कोई भी जुर्माना नहीं लगाया जाएगा क्योंकि इनकी स्थिति आर्थिक रूप से ठीक नहीं हैं। इससे कहीं न कहीं यह लोग कहते हुए देखे गए कि तहसीलदार श्री कुशवाह यह मानवता का परिचय दिया हैं।