पत्नि की तलाश के लिए पुलिस ने ली 20 हजार की रिश्वत, पति ने पेमेंट किया लेकिन पत्नि नही मिली: रिश्वत से भरा वीडियो वायरल

शिवपुरी। मामला थोडा हटकर हैं यह खबर पुलिस का जनसेवा का चेहरा उजागर करती हैं कैसे फरियादी को अपने काम करवाने के लिए रिश्वत देनी पडती हैंं इस मामले में सबसे खात बात यह हैं कि फरियादी अपने काम के लिए 5 महिने से कोतवाली पुलिस के चक्कर लगा रहा था। रिश्वत का पैकेज मिलने के बार तत्काल टीम तैयार हो गई। मामला एक गुमशुदा महिला की तलाश का हैं। 

इस मामले में फरियादी पति ने कोतवाली पुलिस पर अपनी गुमशुदा पत्नि की तलाश के लिए कोतवाली पुलिस को पेमेंट करनी पडी। पेमेंट के बाद भी पत्नि नही मिली। फरियादी पति ने इस मामले में ग्वालियर जोन के आईजी अविनाश शर्मा ने शिकायत की हैं। आईजी ने एसपी शिवपुरी को इस मामले में जांच के ओदश दिए हैं।

यह हैं मामला 
फरियादी उदय भूषण निवासी मनियर बाईपास राजीव नगर ने एक आवेदन आईजी ग्वालियर को सौंपा। इस आवेदन क अनुसार फरियादी का कहना हैं कि मेरी पत्नि 5 अगस्त 2020 को घर से बिना बताये उसकी पत्नी कही चली गयी। सिटी कोतवाली मे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई कई बार शिवपुरी पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल को भी मामले से अवगत कराया साथ ही कार्यवाही ना होने को लेकर शिकायत भी दर्ज की लेकिन उसके वावजूद भी फरियादि की कोई सुनवाई नहीं हुई। लगातार 5 माह तक मैं कोतवाली के चक्कर लगता रहा उसके बाद भी कार्रवाई नही हुई। 

फरियादी का कहना हैं कि कोतवाली में पदस्थ एसआई प्रियंका जैन ने गुमशुदगी की तलाश करने के लिए रिश्वत के रूप में 20 हजार की मांग की। मैने जैसे की 20 हजार रूपए दिए उसके 10 मिनिट बाद ही कोतवाली टीआई का मेरे पास फोन आ गया और टीम तैयार हो गई। पुलिस टीम फरियादी के साथ गई लेकिन उसकी पत्नि नही मिली।

इसके बाद फरियादी ने यह रिश्वत से भरा वीडियो वीडियो वायरल कर दिया। इसके बाद यह मामला सुर्खियो में आ गया। इस मामले में ग्वालियर जोन के आईजी अविनाश शर्मा का कहना हैं कि मेरे पास फरियादी आया था आवेदन भी सौंपा था मैने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी शिवपुरी को इस मामले के जांच के आदेश दिए हैं।