18 लाख की लूट के लूटेरे पुलिस की गिरफ्त में, कभी भी कर सकती हैं पुलिस इस मामले का खुलासा - Shivpuri News

शिवपुरी। कोलारस नगर में हुई दालमिल संचालक के पुत्र के साथ 18 लाख की लूट की घटना को अंजाम देने वाले लूटेरो को पुलिस के द्धवारा गिरफ्तार करने की खबर आ रही हैं,हालाकि पुलिस गिरफ्तारी की बात नही स्वीकार कर रही हैं लेकिन लूटेरो के करीब पहुंचने की बात को स्वीकार कर रही हैं। 

जैसा की विदित हैं कि श्रीराम दालमिल संचालक गिर्राज सिंघल के बेटे गर्वित सिंघल की आंखों में मिर्ची पाउडर झोंककर बदमाश 18 लाख रुपए लूटकर ले गए थे । 24 नवंबर की इस घटना के बाद व्यापारियों में नाराजगी व्याप्त हो गई और अगले दिन 25 नवंबर को व्यापारियों ने जिले भर की मंडियां बंद रखने की बात कही थी। 

लूट की वारदात के बाद आईजी खुद कोलारस पहुंचे और घटना को लेकर बातचीत की। पुलिस ने वारदात करने वाले अपराधियों को पकड़ने के लिए पूरी ताकत झोंक दी और शुक्रवार तक काफी हद तक सफलता हाथ लग गई।

बताया जा रहा हैं कि इस लूट की वारदात को ट्रेस करने के लिए पुलिस ने कोलारस नगर के मकानो में लगे सीसीटीवी कैमरो को खंगालना शुरू किया था। प्रत्यक्ष दर्शियो के बताए हुए लूटेरो की कदकाठी से मिलान किया गया। यह बात लूट के तत्काल बाद खुलासा हो गया था कि लूट में प्रयोग होने वाली गाडी बुलेट थी। 

इसी सुराग को लेकर पुलिस आगे बडी और बुलेट चलाने वाले लूटेरो की पहचान हो गई। यह भी बताया जा रहा हैं कि वह सरदार था इसकी पहचना कोलारस नगर के रहने वाले समाज सेवी ने की और उसकी पुरी कुंडली पुलिस को बताई। इसी आधार में पर पुलिस ने आगे बडी हैं और इस मामले को ट्रेस करने में सफलता प्राप्त की है। 

शिवपुरी पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने कोलारस अनुविभाग पुलिस के साथ - साथ आसपास अनुविभाग के अन्य थानों के अधिकारी और स्टाफ की टीमें गठित कर मैदान में उतारने के बाद पुलिस को सफलता हाथ लगी हैं। हालांकि पुलिस अफसर अपराधियों के पकड़े जाने के संबंध में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। मामले को पुलिस आज कल में खुलासा कर सकती है। इस लूट कांण्ड में शुरूवात में 3 लोग शामिल होने की खबर आ रही थी लेकिन पुलिस के जांच में 6 लोग इस लूट काण्ड में शामिल होने की बात सामने आई हैं वही कोलारस नगर का एक झोलाछाप डॉक्टर भी इस लूट में शामिल हैं।