कर्मचारी ने लिखा अपनी मौत का कारण:बच्चो को खाना ना ही शिक्षा और बीबी को सुख दे पा रहा हूं - Shivpuri News

शिवपुरी। जल संसाधन विभाग में मस्टर पर कार्यरत पंप अटेंडेंट ने कम वेतन मिलने पर तालाब में कूदकर जान दे दी है । कर्मचारी आत्महत्या से पहले सुसाइड नोट छोड़कर गया है जिसमें मौत की वजह कम वेतन दर्शाया हैं। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर मामला विवेचना में ले लिया है ।

मनोज श्रीवास्तव पुत्र स्व.बीएल श्रीवास्तव निवासी मोहिनी सागर कॉलोनी शिवपुरी जल संसाधन विभाग में मस्टर पर पंप अटेंडेंट काम करता था। मनोज की लाश रविवार की सुबह चांदपाठा तालाब से बरामद हुई है, लेकिन शनिवार की रात 8 बजे ही चांदपाठा तालाब के पास पेड़ पर टंगी शर्ट की जेब में सुसाइड नोट मिल गया था।

सुसाइड नोट में कम वेतन मिलने संबंधी बात स्पष्ट रूप से लिखी है । अपनी मौत के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया है। फिजिकल थाना टीआई अमित भदौरिया का कहना है कि लाश मिलने से पहले ही सुसाइड मिल गया था। बेटे ने शर्ट व सुसाइड नोट की हैंड राइटिंग पहचान ली थी।

यह लिख हैं कर्मचारी ने सुसाइड नोट
में मनोज श्रीवास्तव पुत्र स्व:बीएल श्रीवास्तव निवासी मोहिनी सागर कालोनी शिवपुरी घर की आर्थिक स्थिति से तंग होकर सुसाईड कर रहा हूं,इतनी कम वेतन में मैं अपने घर का खर्च नही चला पा रहा हूं। ना तो अपने बच्चो को अच्छा खाना खिला पा रहा हूं और ना ही अच्छी शिक्षा दे पा रहा हूं। ओर ना ही अपनी बीबी को कोई सुख दे पा रहा हूं।

मैं अपनी मर्जी से सुसाईड कर रहा हूं,इसमें कोई दोषी नही हैं। सभी लोग मेरी बेवकूफी को माफ करना,सभी लोगों को मेरी ओर से आखिरी प्रणाम। अमन,आकाश अपनी मम्मी का ख्याल रखना।