कांग्रेस को झटका: कांग्रेस का हाथ छोड सिंधिया के साथ जा सकते हैं पूर्व मंडी अध्यक्ष एनपी शर्मा - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी।
पोहरी विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी हरिवल्लभ शुक्ला के नाम की घोषणा होने के बाद टिकट के अन्य दाबेदार पूर्व मंडी अध्यक्ष एनपी शर्मा ने भाजपा में जाने के संकेत दिए हैं। सूत्रों के अनुसार श्री शर्मा दिल्ली जाकर राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मिल आए हैं। श्री शर्मा ने कहा कि उनकी आस्था सिंधिया के प्रति है और वह भाजपा में जाने की सोच रहे हैं। लेकिन अभी फैसला नहीं लिया है। परंतु सूत्र बताते हैं कि श्री शर्मा 10 अक्टूबर को सिंधिया के संभाग के दौरे में भाजपा में शामिल होंगे।

पोहरी विधानसभा सीट से 2008 का विधानसभा चुनाव लड़े एनपी शर्मा ने इस बार भी टिकट के लिए प्रयासरत थे कट्टर सिंधिया समर्थक होने के बाद भी वह टिकट की लालसा में सिंधिया के साथ भाजपा में नहीं गए। हालांकि सिंधिया ने जब कांग्रेस छोड़ी थी और वह भाजपा में शामिल हुए थे। उस समय सिंधिया के भोपाल आगमन पर एनपी शर्मा ने उनकी अगवानी की थी।

जिसके फोटो सोशल मीडिया पर हैं और इनका उपयोग श्री शर्मा को टिकट न मिले इसके लिए किया गया। श्री शर्मा स्वीकार भी करते हैं कि वह सिंधिया के स्वागत के लिए भोपाल गए थे। लेकिन इसके बाद उन्होंने कांग्रेस में रहने का ही फैसला लिया। श्री सिंधिया ने एनपी शर्मा को 2008 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार बनाया।

हालांकि उस चुनाव में श्री शर्मा पराजित हुए और उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व विधायक हरिवल्लभ शुक्ला को हराने के लिए उन्हें मोहरे की तरह इस्तेमाल किया गया। श्री शर्मा का कथन था कि षडय़ंत्रपूर्वक उन्हें 2008 के चुनाव में हराया गया। उपचुनाव में टिकट की आस के कारण वह कांग्रेस में बने रहे।

परंतु टिकट पूर्व विधायक हरिवल्लभ शुक्ला को मिला तो एनपी शर्मा ने सिंधिया के साथ जाने का निर्णय लिया और वह अपने समर्थकों के साथ दिल्ली जाकर सिंधिया से मिले। मुलाकात की हालांकि श्री शर्मा ने पुष्टि तो नहीं की। लेकिन यह अवश्य कहा कि सिंधिया जी से तो उनका मिलना जुलना लगातार होता रहता है। परंतु भाजपा में वह जाएंगे या नहीं यह अभी उनके विचार का विषय है और एक-दो दिन में वह इस संबंध में फैसला लेंगे।

यह बता दे कि एनपी शर्मा शिवपुरी मंडी अध्यक्ष रह चुके हैं और मुडखेडा गांव में निवास करते हैं उनके भाजपा में जाने से कांग्रेस को नरवर के बेल्ट के गांव और सतनवाडा पटटी पर खासा प्रभाव हैं जो कांग्रेस के लिए नुकसान साबित होगा। 

इनका कहना है-
मैंने भी एनपी शर्मा के भाजपा में जाने के बारे में सुना है और उनकी खूब मानमनोबल भी की है। समझाने का प्रयास किया है। कांगे्रस प्रत्याशी हरिवल्लभ शुक्ला भी उनके घर हो आए हैं और पुरानी गलतियों के लिए माफी मांगते हुए गिले शिकवे दूर करने की बात कहीं है।

कांगे्रस प्रभारी राजकुमार पटेल भी श्री शर्मा से जाकर मिल चुके हैं ओर उन्हें समझा चुके हें। श्री शर्मा चाहते थे कि उनके पुत्र को कांगे्रस महामंत्री बनाया जाए, वह भी बना दिया। अब इसके बाद भी यदि वह भाजपा में जाना चाहे तो जाने वाले को कौन रोक सकता है।
श्रीप्रकाश शर्मा, जिला कांगे्रस अध्यक्ष शिवपुरी