अशासकीय विद्यालय एसोसिएशन ने तहसीलदार के नाम सौंपा ज्ञापन - khaniyadhana News

खनियांधाना।
अशासकीय विद्यालय एसोसिएशन ने खनियांधाना में तहसीलदार के नाम एक ज्ञापन सौंपा जिसमें अशासकीय विद्यालयों की मान्यता वृद्धि 5 वर्ष के लिए की जाए। साथ ही बिना निरीक्षण परीक्षण के बार-बार निरीक्षण परीक्षण कराने में परेशानी हो रही है क्योंकि कोरोना के समय स्टाफ भी इधर-उधर हो गया स्कूल बंद है।

ऐसी स्थिति में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। वहीं दूसरी ओर आरटीई का जो पैसा शेष है, किसी कारण अगर वेरीफाई नहीं हो पाए बच्चे उसमें फिंगर ना आने के कारण या नाम में स्पेलिंग मिस्टेक होने के कारण विद्यालय की कोई गलती नहीं है। उन्हें आर्टिका पैसा भुगतान किया जाना चाहिए। तीसरा आर्टरी के अलावा विद्यालय चौकी 8 माह से लगातार बंद है पिछले वर्ष की फीस जो परीक्षा के समय आना थी वह भी नहीं आ पाई।

पालक और बच्चे स्कूल आ नहीं रहे हैं स्कूल बंद है ऐसी स्थिति में स्कूलों का नल बिल बिजली का बिल आदि शासन को माफ करना चाहिए। क्योंकि ऐसी स्थिति में वह कहां से दें स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों की भी स्थिति दयनीय है और संचालकों की स्थिति भी दयनीय है कई संचालक किराए की बिल्डिंग में स्कूल चलाते हैं वह अपना किराया नहीं दे पाने के कारण मकान मालिक भी उनसे स्कूल खाली करने को कह रहा है ऐसी स्थिति में वे क्या करें यदि आरटी का भुगतान हो जाएगा तो ना कुछ राहत मिल जाएगी।

स्कूल संचालन की अनुमति दी जाए ताकि स्कूल समय पर लग सके फीस भी आना चालू हो जाएगी जब सिनेमा हॉल सभाओं की अनुमति हेतु स्कूल संचालन की अनुमति क्यों नहीं शासन अपनी एक निश्चित गाइडलाइन के अनुसार स्कूल संचालन की अनुमति प्रदान करें यदि हमारी मांगे नहीं मानी गई तो 30 अक्टूबर से अनशन पर बैठेंगे कार्यक्रम में मुख्य रूप से पृथ्वीराज चौहान, शोभाराम झा, अनिल कुमार पांडे प्रमोद जैन, दद्दू जय कुमार पांडे, शिवाजी राजा बुंदेला, शीतल कुशवाहा आदि उपस्थित थे।