कन्या उमावि में लगी छात्राओ के लिए जिले में पहली ओपन जिम:खेल विभाग से आई मशीने - khaniyadhana News

खनियाधाना
। शिवपुरी जिले के खनियाधाना शासकीय कन्या उमावि के प्राचार्य द्वारा विशेष रूचि लेते हुये ना केवल विद्यालय परिसर को सजाया संवारा गया है। साथ ही विद्यालय परिसर में ज्ञान की देवी मां वीणावादनी का मंदिर निर्माण कराया जाकर वहां मूर्ति की स्थापना के साथ विद्यालय की छात्राओं को शारिरिक रूप से फिट रखने हेतु ओपन जिम का शुभारंभ होने जा रहा है।

स्कूल के प्राचार्य यशपालसिंह वघेल ने स्थानीय विधायक केपीसिंह के प्रयासों से खनियाधाना के कन्या विद्यालय में ओपन जिम शुरू करने का मन बनाया और उसे मूर्त रूप भी दिया। इस जिम में लाखों रूपये की लागत की कुल 11 मशीनें लगाई जा रही हैं।

इन छात्राओं को स्कूल की ही शिक्षिका ममता त्रिपाठी द्वारा जिम में लगी मशीनों के माध्यम से व्यायाम करना सिखाया जावेगा। भोपाल खेल मंत्रालय से 5 दिन पूर्व जो मशीनें आई हैं उनमें प्रेरलर बार, ट्रिपल टवीस्टर, एबडोमिनल मशीन, रोविंग मशीन, आर्म व्हील आदि शामिल हैं। इस जिम के साथ ही विद्यालय परिसर में  मां सरस्वती की प्रतिमा की भी स्थापना की गई।

छात्रायें काफी खुश
अभी पांच दिन पूर्व 11 मशीनें ओपन जिम के लिये खेल मंत्रालय भोपाल द्वारा भेजी गई हैं। जल्द ही इन मशीनों को स्कूल परिसर में स्थापित कर शुरू करवाया जावेगा। छात्राओं को प्रशिक्षण देने के लिये स्कूल शिक्षिका को जिम्मेदारी सौंपी गई है। छात्रायें इस जिम के शुरू होने को लेकर काफी खुश हैं।
यशपाल सिंह वघेल, प्राचार्य, शासकीय कन्या हा.से.स्कूल, खनियाधाना

जिले का पहला कन्या विद्यालय है जहां ओपन जिम स्थापित है
जानकारी देते हुये शासकीय कन्या उमावि खनियाधाना के प्राचार्य यशपाल सिंह वघेल ने बताया कि इससे पूर्व पिछोर में भी ओपन जिम का प्रस्ताव आया था लेकिन वह जिम स्कूल में ना लगते हुये टेकरी सरकार मंदिर प्रांगण पर लगा दी गई। हमारा विद्यालय जिले में पहला एैसा विद्यालय है जहां वालिकाओं के लिये ओपन जिम होगी।

इस जिम में विद्यालय में पढने वाली वालिकायें सुबह के समय ब्यायाम करेंगी। वहीं अन्य के लिये जिम शाम के लिये उपलब्ध होगी। जिम शुरू होने को लेकर छात्रायें काफी खुश हैं। कई छात्राओं द्वारा पूर्व से ही खनियाधाना विद्यालय में जिम लगाने की इच्छा जाहिर की जा रही थी। जिम खुलने से उनकी वह अभिलाषा भी पूरी हो गई।

विद्यालय परिसर में स्थापित हुई मां सरस्वती की प्रतिमा
शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खनियाधाना में शिक्षा के प्रति बालिकाओं को बढावा देने के लिये विद्यालय के कायाकल्प में अपनी अहम भूमिका निभाते हुये प्राचार्य यशपाल सिंह वघेल द्वारा मां सरस्वती का मंदिर निर्माण कराया गया।

वहीं खनियाधाना के वरिष्ठ समाजसेवी विजयसिंह भारद्वाज द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा प्रदान की गई। प्रतिमा के विद्यालय परिसर में निर्माणाधीन मंदिर में स्थापित होने से ना केवल विद्यालय परिसर शोभायमान हुई वहीं छात्राओं में ज्ञान की देवी मां वीणावादनी से प्रतिदिन आशीर्वाद प्राप्त करने का अवसर प्राप्त हुआ।