डिग्री आयुर्वेद की और इलाज कर रहे हैं एलोपैथी में: जिले में बेलगाम होते डॉक्टर - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी।
जिले में स्वास्थ विभाग भगवान भरोसे चल रहा हैं सरकारी अस्पताल में से प्रतिदिन डॉक्टरो व स्टाफ के द्धवारा लापरवाही की खबरे आती हैं तो वही तहसीलो में झोला छाप और अपनी डिग्री बदलकर ईलाज करने की भरमार है। कई डॉक्टर जिले में अपना अस्पताल खोल कर बैठे हैं जिन पर डिग्री आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति की हैं ओर ईलाज एैलोपैथी का कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार करैरा में बीएमएस हॉस्पिटल मंडी के सामने स्थित हैंं इस हॉस्पिटल के संचालक हैं डॉ बीर मौर्य इनके नाम प्लेट पर डिग्री बीएएमस की अंकित हैं,लेकिन इस पूरे हॉस्पिटल में इनकी डिग्री के हिसाब से ईलाज नही होता है। यह ईलाज करते हैं इंग्लिश दवाओ से मतलब यह अपनी पैथी बदलकर ईलाज कर रहे है।

बताया जा रहा हैं इनके अस्तपाल में अंग्रेजी दवाओ की भरभार हैं जो बिना किसी अधिकृति लाईसेंस के इंग्लिश दवाओ का भंडारण करे हुए हैं मरीजो इंजेक्शन और बोतले लगा रहे हैं। इनकी डिग्री इनको इस पैथी में ईलाज करनेे की परमिशन नही देती है।

अब आप ही बातईए कि आयुर्वेद की डिग्री वाला कैसे इंग्लिश दवाओ से ईलाज कर सकता हैं। करैरा क्षेत्र में झोला छाप डॉक्टरो की भरभार हैं,स्वास्थ्य विभाग ऐसे डॉक्टरो पर कार्रवाई नही करता यह बडा सवाल हैं कि ऐसा....क्यो

इनका कहना हैं
इस डॉक्टर को नोटिस दिया जाऐगा,ओर इसकी जांच की जाऐगी पैथी बदलकर ईलाज नही किया जा सकता है
बीएमओ करैरा डॉ प्रदीप