पिछोर में खुलेआम चल रहा है जुआ और सट्टे का कारोबार, प्रशासन मौन - PICHHORE NEWS

शिवम पाण्डेय पिछोर।
खबर जिले के पिछोर थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां इन दिनों पूरा क्षेत्र जुआ और सटटे की गिरफ्त में है। इन दिनों तहसील पिछोर में जुआ का कारोवार जोर शोर से चल रहा है जिसमे पिछोर के नवयुवको का भविष्य अन्धकार मय हो गया है। आज कल के नव युवक सर्वप्रथम अधिक पैसा कमाने के लालच के चक्कर में पहले तो इस खेल में पड़ जाते है और फिर इस कारोवार में अधिक दलदल में फस जाते है तो चोरी डकैती जैसी घटनाओं में युवा लिप्त हो जाते है सबसे बड़ी बात तो यह है इस सब घटना क्रम के बाद भी पुलिस प्राशासन चुप है।

पिछोर में पिछले लंबे समय से बड़े स्तर पर चल रहे जुआ फड़ पुलिस के दलालों द्वारा गांव बादली,सलौरा रही,राजमहादेव,डाक बंगला पर बने मैरिज गार्डन,सहित थाना पिछोर से लगभग 15 किमी दूरी पर मुड़रा चौराहा के पास, चंदू पहाड़ी में तथा नगर के बीजासेन रोड़ तालाब के पास,सलौरा ठाकुर बाबा मंदिर के पास स्थानीय खिलाड़ियों के अलावा अन्य जिलों से भी जुआरी पत्तों पर अपनी किस्मत आजमाने आ रहे है।

इस खेल में कोई आबाद होता है तो कइयों के घर बर्बाद हो जाते हैं जुआ खिलाने बाले लोगों ने इस समय इसे टांग नाम दिया गया । नगर क्षेत्र में प्रशासन की सख्ती न होने के बाद अंचल के जुआरियों ने सेमरी,सलोरा,रही ,बनोटा, चंदूपहाड़ी में ही इन दलालो ने गांव के आसपास जुए के अड्डे बना लिए है।