वृद्ध 6 महीने से चक्कर लगा रहा है , अदना सा कार्ड नही बन पाया, उल्टे तहसीलदार ने फटकार लगा दी - BAIRAD NEWS

प्रिन्स प्रजापति@
बैराड़। एक ओर जहां बैराड़ तहसील भ्रष्टाचार व मनमानी के कारनामों में अब्बल रहती है तो वहीं बैराड़ तहसील का एक और मनमानी का मामला सामने आया है। जहां एक 60 वर्ष वृद्ध को सरकार द्वारा चलाई जा रही किसी भी योजना का लाभ नहीं मिल रहा हैं। वृद्ध करीब छे माह से अधिकारियों के आफिस के चक्कर लगा—लगा कर परेशान है। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रहीे।

जानकारी के अनुसार ग्राम बूढदा के निवासी सोनेराम प्रजापति उम्र 60 बर्ष को किसी भी सरकारी योजना का लाभ नही मिल रहा है। जिनमें मुख्य रूप से कि सोनेराम का बीपीएल सूची मे नाम जुडना है जिसको लेकर पीडित पिछले 6 महीने से तहसील व पंचायत के चक्कर लगा रहा है कई बार आवेदन दे चुका है लेकिन फिर भी कोई सुनवाई आज दिनांक तक नही की गई है।

इतना ही नही तहसील क्षेत्र में बड़े—बड़े धन्नासेठों के वीपीएल सूची मे नाम जुड़े हुए है। लेकिन जब बात गरीबों की आती है तो सभी सरकारी योजनाएं धरी रह जाती है और जो बास्तव मे गरीब है उनको उसका लाभ तक नही मिल पा रहा है।

जहां सरकार एक ओर सरकारी योजनाओं की गाथा गाने में कोई कसर नही छोड़ती है तो बहीं नजरिया अलग ही देखने को मिलता है जहां योजना तो योजना गरीबी रेखा की वीपीएल सूची मे नाम जुड़बाने के लिए 6 महीने गुजर चुके है। लेकिन जब तहसीलदार के पास पुन: इस मामले को लेकर पीडित पहुंचा तो उल्टा दिनेश जोशी तहसीलदार बैराड़ ने पीड़ित सोनेराम को फटकार लगाकर बाहर कर दिया। इस मामले पर जब तहसीलदार दिनेश जोशी से बात की तो वह पल्ला झाडते हुए कहने लगे कि मेरे संज्ञान में कोई भी वृद्ध का कई मामला नहीं है और ना ही कोई वृद्ध यहां पर मेरे पास आया।