भगत जी ने किया कमाल: उगाई 2 किलो से अधिक वजनी मौसमी, अधिकारी भी हैरान - POHRI NEWS

पोहरी। जिले के पोहरी अनुविभाग के बैराड कस्बे के पास स्थित भदेरा गांव के एक किसान ने अपने खेत में कुछ स्पेशल उंगाने की चाह में अपने खेतो में उगाए मौंसमी के पेडो से 2 किलो से अधिक बजनी मौंसमी उंगाने में सफलता हाासिल की हैं। किसान के इस कारनामे से कृषि अधिकारी भी हैरान हैं।

बैराड के पास स्थित भदेरा गांव के किसान रामदयाल रावत उम्र 30 साल उर्फ भगतजी के भाई ने इजराइल से मौसंबी की पौध लाकर दी जिसे उन्होंने खेत में रोपा। अब इसी से तैयार हुए पेड़ों से 2 किलो 100 ग्राम वजनी मौसंबी फल मिल रहे हैं। हालांकि उद्यानिकी विभाग के अधिकारी उनके इस दावे को नकार रहे हैंं।

उनका कहना है कि यहां की जलवायु और मिट्टी मौसंबी फसल की पैदावार के लिए अनुकुल नहीं है और 500 ग्राम से अधिक मौंसमी संभव नही है। इस पर किसान ने दावा किया हैं कि वह हमारे गांव आए ऐसी एक नही कई मौसंमी लगी हैं। 

रामदयाव रावत को अपने खेतो में कुछ स्पेशल फसले उंगाने का शौक हैंं। तीन साल पहले उन्होने अपने भदेरा के इसी फार्म हाउस पर 500 ग्राम का नीबू का उत्पादन किया था और इसके बाद 20 किलो से अधिक वजनी कटहल का भी उत्पादन किया था। 

रामदयाल रावत ने बताया कि उनके भाई सरदार सिंह रावत भारतीय सेना में कैप्टन हैं और जब वह ईजराईल गए थे तो वह अपने साथ मौसंबी की 2 पौध लेकर आए थे जिसे मैने अपने खेत मे रौप दिया था। अब वह पौधे पेड बनकर फल देने लगे हैं और उनमें जो मौंसबी लग रही हैं उनका बजन 2 किलो से अधिक हैं। 

बताया जा रहा हैंं कि अपने खेतो में कुछ स्पेशल करने की चाह में रामदयाल ने इस मौंसबी के पौधे की बच्चो से अधिक देखभाल की समय पर खाद पानी और दवाईयों का छिडकाव किया था।