खेल दिवस: खेल डिग्री धारियों ने भरी हुंकार,कहा भर्ती नहीं तो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे / SHIVPURI NEWS


शिवपुरी। खेल दिवस के दिन एक ओर जहां देष भर में खेलों को बढ़ावा देने के लिए बड़े बड़े दावे किए जाते हैं और खेल प्रषिक्षकों को सभी सुविधायें उपलब्ध कराए जाने की कसमें खाई जाती हैं मगर मध्यप्रदेष में पिछले 15 साल से खेल षिक्षकों की ही भर्ती नहीं की गई है इससे यह स्थिति स्पष्ट होती है कि सरकार दोहरा रवैया अपना रही है।

आज खेल दिवस पर प्रदेष भर में खेल डिग्रीधारी युवाओं ने सभी जिलों में प्रषासन को ज्ञापन सौंप अपनी मांग को प्रदेष सरकार तक पहुंचाने का प्रयास किया। शिवपुरी जिले में भी म.प्र. युवा खेल एवं शारीरिक षिक्षा संघ के बैनर तले डिप्लोमाधारी खिलाड़ियों ने ज्ञापन सौंपा और खेल षिक्षकों की भर्ती कराए जाने की मांग सरकार से की। उन्होंने कहा कि सरकार यदि ऐसा नहीं करती तो 27 सीटों पर जाकर खेल डिग्रीधारी सरकार को विरोध करेंगे।

आज शिवपुरी कलेक्टोरेट में ज्ञापन देने पहुंचे खेल डिग्रीधारियों का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर षिवांगी अग्रवाल ने लिया। इस दौरान युवा खेल एवं शारीरिक षिक्षा संघ के प्रदेष सचिव वेदप्रकाष गौर ने बताया कि म.प्र. सरकार ने पिछले 15 सालांे से खेल षिक्षकों की भर्ती नहीं निकाली है जिससे खेल डिग्री उत्तीर्ण कर चुके लाखों युवा बेरोजगार हो गए हैं। प्रदेश में हर साल हजारों युवा खेल डिग्री कम्पलीट कर रहे हैं मगर भर्ती नहीं निकल रही है।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार ने नई षिक्षा नीति में खेल षिक्षा को अनिवार्य किया है मगर जब स्कूलों में खेल षिक्षकों की ही भर्ती नहीं होगी तो स्कूली बच्चों को खेल की बारिकियां कौन सिखाएगा।
युवाओं का कहना था कि पिछले वर्ष शिक्षकों की जो भर्ती निकाली उसमें खेल षिक्षकों के पद ही नहीं रखे गए हैं और न ही अतिथि खेल षिक्षक के रूप में शासकीय स्कूलों में पद निकाले जा रहे हैं। सरकार युवाआंे के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।

आज ज्ञापन सौंपने वालों में युवा खेल एवं शारीरिक शिक्षा संघ के संस्कार मिश्रा (प्रदेश उपाध्यक्ष) ,वेद प्रकाश गौड़ (प्रदेश सचिव) ,अजय श्रीवास्तव( जिला अध्यक्ष), नेपाल सिंह (मीडिया प्रभारी) जयेश भार्गव ,वैभव पांडे ,अभिषेक भार्गव, गिर्राज शर्मा , अभिषेक पाल ,विवेक भार्गव, बुंदेल सिंह,राजेन्द्र गहलोत, विवेक भार्गव, रोहित पाठक, पवन पाराशर, अनिल पचैरी जी, उबेरआदिल खान, मोइन खान, विवेक उपाध्याय शामिल थे।