दुश्मनी भुनाने तोड़ दी झोपड़ी, दबने से परिवार के तीन सदस्य घायल / SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। बामौरकलां के ग्राम नारौनी में एक आरोपी ने अपनी दुश्मनी भुनाने के लिए फरियादी की झोपड़ी ढहा दी। जिससे झोपड़ी में रह रहे परिवार के तीन सदस्य दबने से घायल हो गए। आरोपी ने घायलों के साथ मारपीट भी की और उन्हें जान से मारने की धमकी देकर भाग गया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी क अनुसार चंदन पुत्र अमरू आदिवासी और आरोपी सोपाड़ी आदिवासी निवासी झलकुई का पुराना विवाद चल रहा था। जिससे दोनों के बीच दुश्मनी हो गई थी। इसी दुश्मनी को भुनाने के लिए कल दोपहर आरोपी फरियादी के गांव नारौनी आया। जिस समय फरियादी चंदन आदिवासी अपनी पत्नी शारदा आदिवासी और एक वर्ष की पुत्री नित्या आदिवासी के साथ झोपड़ी में सो रहा था।

उसी समय आरोपी ने मौका देखकर झोपड़ी को गिरा दिया। जिससे झोपड़ी में ऊपर लगी लकडिय़ा तीनों पर गिर गई और वह तीनों घायल हो गए। किसी तरह चंदन ने अपनी पत्नी और बच्ची को लकडिय़ों के बीच से निकालकर बाहर भेजा और स्वयं बाहर आया तो वहां आरोपी सोपाड़ी आदिवासी खड़ा हुआ जिसने चंदन को देखते ही उसकी मारपीट कर दी और उसे धमकी दी कि इस बार तो वह बच गया लेकिन अगली बार वह उसे और उसके परिवार को खत्म कर देगा।