डेढ माह से गौसेवा में जुटे हैं शहर के यह युवा: रोज बेजुबानों को चारा दे रहे हैं / Shivpuri News

शिवपुरी। लॉकडाऊन में केवल इंसानों की ही नहीं मूक जानवरों की भी हालत खराब है, लेकिन उनकी पीड़ा समझने वाले कम ही हैं. इनमें से शिवपुरी के दो युवा शैलेश पाराशर और और महेश गुर्जर एमडी शामिल हैं, जो गोवंशों को 51 दिनो से चारा देते आ रहे हैं।

इस पुण्य के काम में लगे शैलेश पाराशर बताते हैं कि वे अपने मित्र ईश्वर महेश गुर्जर एमडी के साथ लगातार शहर में घूम कर सेवाधाम के माध्यम से गौ वंशों को चारा देते आ रहे हैं शैलेश पराशर ओर बताते हैं कि हमारा उद्देश्य सिर्फ यह है गौ वंशों की भूख के कारण जान न जाए।

महेश गुर्जर एमडी कहते हैं कि यह बेजुबान हैं, इनकी सुनने वाला कोई नहीं बस इसी संकल्प के साथ आस्थापूर्ण हम सेवा मे लगे हैं। वे दूसरों से भी गौ वंशों की सेवा – रक्षा के लिए गौ सेवाधाम में सहयोग करने का आग्रहत करते हैं जिससे बिना किसी रुकावट के गौ वंशों की सेवा होती रहे।

शिवपुरी शहर की यह दो युवा शहर भर में पानी की टंकियों की भी सफाई कर रहे हैं।घायल व बीमार गौवंश का भी उपचार: लॉकडाउन के दौरान अगर ग्रुप के सेवकों को शहर में कहीं भी गौवंश व घायल व बीमार होने की सूचना मिलती है तो सेवक तुरंत से गौवंश की सेवा में पहुंच जाते हैं। इनके इस संपूर्ण सराहनीय कार्य की संपूर्ण जिले के लोग  सराहना कर रहे हैं।