17 मई के बाद मिल सकती है लॉक डाउन में राहत, दूर की दुकानें रोज खुलेंगी

शिवपुरी। जिला प्रशासन ने दुकानें खोले जाने के संबंध में लोगों से सुझाव आमंत्रित किए हैं। लॉकडाउन  3 की समाप्ति के बाद दुकानें खोले जाने के संबंध में और छूट दी जा सकती है। अभी मुख्य बाजार में एक-एक दिन करके दुकानें खोली जा रही हैं। लेकिन जो दुकानें भीड़ भाड़ वाले इलाके में नहीं है और मुख्य बाजार से हटकर हैं उन्हें अब प्रतिदिन खोला जा सकेगा।

शिवपुरी के लिए राहत की बात यह है कि अभी यह जिला ग्रीन जोन में हैं और हाल ही में जो दो पॉजिटिव मामले सामने आए थे, वह स्थानीय लोगों के नहीं थे। बल्कि बाहर से आने वाले लोगों के थे। फिलहाल वर्तमान जो व्यवस्था है वह 17 मई तक जारी रहेगी और इसके बाद लॉकडाउन में और रियायत मिलने की उम्मीद है।

कल क्राईसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक मेें यह तय किया गया कि फिलहाल रविवार पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा। दुकानें खोले जाने के संबंध में पहले सुबह 9 बजे से 2 बजे तक और दोपहर 2 बजे से शाम 7 बजे का समय तय किया गया था। एक दुकान का समय यदि सुबह 9 से 2 बजे है तो उसके पास वाली दुकान दोपहर 2 से 7 बजे तक खुलेगी।

लेकिन यह व्यवस्था सिर्फ एक दिन ही चल पाई और कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उस दिन पूरा बाजार बंद रखा गया और बाद में यह तय किया गया कि एक दिन सुबह 9 से 2 बजे तक के दुकानदार दुकानें खोलेंगे।

जबकि दूसरे दिन दोपहर 2 से 7 बजे तक के दुकानदार दुकानें खोलेंगे। दुकानें खोलने का समय सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक का किया गया। पेट्रोल पंप भी शाम 5 बजे तक ही खुले रहेंगे। फिलहाल आधा बाजार प्रतिदिन खुल रहा है। लेकिन बाजारों मेें भीड़ बढ़ रही है और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करते हुए लोग नजर नहीं आ रहे।

बहुत से लोग तो इतने लापरवाह हैं कि बिना मास्क लगाए बाजारों में घूम रहे हैं। हालांकि ऐसे लोगों के चालान किए जा रहे हैं। वहीं दूसरी और प्रवासियों के आने का सिलसिला भी लगातार जारी है ।

शिवपुरी जिले में बाहर कारोबार करने वाले यहां के लगभग 3 से 4 हजार लोग आ चुके हैं। इसके साथ ही देश के विभिन्न भागों से मजदूरों के आने का सिलसिला भी जारी है। लेकिन राहत की बात यह है कि स्थानीय स्तर पर संक्रमण का फैलाव नहीं हो पाया है और यहीं स्थिति यदि बनी रही तो 17 मई के बाद लॉकडाउन 4 में और रियायत दी जा सकती है।

कोर्ट रोड वन वे किया गया
बाजार में भीड़ के आवागमन को प्रतिबंधित करने के लिए प्रशासन द्वारा कुछ कदम उठाए गए हैं। जिसके तहत कोर्ट रोड़ को प्रतिबंधित किया गया है तथा गलियों में मोटरसाइकल ले जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है । सुनार गली और लखेरा गली जैसी सकरी गलियों में वेरीकेट्स लगाए गए हैं ताकि उन गालियों में मोटर साइकल सवार न गुजरें।