जनता कर्फ्यू: HOSPITAL, मेडिकल, पेट्रोल पंप, राशन की दुकाने खुली रहेंगी, अफवाहों पर न दे ध्यान

शिवपुरी। देश में कोरोना वायरस महामारी के आगमन के बाद देश के अलग-अलग स्थानों पर गंभीर स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने की अपील की है। जिसका असर एक दिन पहले ही शिवपुरी में दिखना शुरू हो गया है।

प्रधानमंत्री की अपील को लेकर दुकानदारों ने अपनी दुकानों पर बैनर लगाकर लोगों को समझाना शुरू कर दिया है। बाजारों में कम भीड़ देखने को मिल रही है। मंदिरों में भी सन्नाटा छाया हुआ है। लोग एतिहात बरत रहे हैं और दूसरे व्यक्ति से दूरी बना रहे हैं। चेहरों पर कोरोना के प्रकोप से बचने के लिए अधिकांश लोग मास्क लगाए हुए देखे जा रहे हैं। शहर में मास्क की बिक्री भी जमकर हो रही है।

शासन और प्रशासन के स्वर में स्वर मिलाते हुए रेडीमेड एवं हौजरी एसोसिएशन सहित अनेकों व्यापारिक संगठनों ने अपने-अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखने की घोषणा कर दी है। जनता कफ्र्यू के दौरान हॉस्पिटल, पेट्रोल पंप, मेडीकल पूर्ण रूप से खुले रहेंगे। वहीं  राशन की दुकानें और खाने पीने की दुकानों को भी बंद से बाहर रखा गया है। अगर वे लोग चाहें तो अपने प्रतिष्ठान बंद रख सकते हैं।

शहर के प्रेम स्वीट्स पर एक बैनर लगाकर जनता कर्फ्यू में सहयोग करने का उल्लेख किया गया है। उसमें लिखा है कि हम मोदी जी के साथ हैं और जनता कर्फ्यू का पूर्णत: पालन करेंगे और अन्य लोगों से भी कराएंगे। कल जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने मिलकर कोरोना वायरस को लेकर शहर में जागरूकता रैली निकाली और लोगों को जनता कफ्र्यू में सहयोग करने की अपील भी की गई।

आज सुबह से ही यातायात पुलिस अपने शासकीय वाहनों पर लॉउड स्पीकर लगाकर जनता कर्फ्यू के दौरान लोगों से सहयोग की अपील कर रहे हैं। यातायात प्रभारी रणवीर यादव का कहना है कि उन्होंने एक संदेश पूरे शहर में प्रसारित किया है। जिसे यातायातकर्मी अपने-अपने प्वाइंटों पर खड़े होकर माईक से प्रसारित कर रहे हैं और लोगों को कोरोना वायरस से बचने के उपाय भी बता रहे हैं।

वह स्वयं भी लोगों को जागरूक करने में लगे हुए हैं। वहीं रेडीमेड एवं हौजरी एसोसिएशन के अध्यक्ष गौरव खंडेलवाल भी दुकानों पर पहुंचकर लोगों से दुकानें बंद रकने की अपील कर रहे हैं। साथ ही एसोसिएशन के सदस्य दुकानों पर आने वाले ग्राहकों से कल घरों में रहने का आग्रह कर रहे हैं और उन्हें बता रहे हैं कि इस महामारी से बचने के लिए किस तरह के उपाय करने हैं।

उन्हें बताया जा रहा है कि हर 15 से 20 मिनिट में साबून से हाथ धोने चाहिए और हाथों को सेनेटाईज करना चाहिए। घरों की वस्तुओं को भी सेनेटाईज किया जाए। घर से बाहर निकलें तो मुंह पर मास्क लगाएं। लोगों से हाथ मिलाने की जगह नमस्कार करें। खांसते और छींकते समय अपनी वाजूओं का इस्तेमाल करें।

किसी भी सर्दी, जुखाम या बुखार से पीडि़त व्यक्ति से 2 मीटर की दूरी बनाकर रखें और संभव हो तो उससे अलग ही रहें। इस तरह के उपाय बताने में प्रशासन के साथ-साथ कई समाजसेवी संस्थाएं और व्यापारिक संगठन लगे हुए हैं।

अफवाहों से बचें, राशन की नहीं होगी कमी : कलेक्टर

कलेक्टर अनुग्रह पी ने कल होने वाले जनता कफ्र्यू में लोगों से घरों में रहने की अपील की है और कहा है कि जनता कर्फ्यू से पहले सोशल साईडों पर अफवाह भरे मैसेज आ रहे हैं। जिनकों नजरअंदाज करें और किसी भी ऐसी अफवाह पर विश्वास न करें, जिससे शहर की व्यवस्था गड़बड़ा जाए।

अफवाहें फैलाई जा रही हैं कि जनता कर्फ्यू के दौरान राशन की कमी आ जाएगी और जनता कर्फ्यू के बाद देश में लॉकडाउन कर दिया जाएगा। यह सिर्फ कोरी अफवाएं हैं। शहर में किसी भी तरह से किसी भी चीज की कोई कमी नहीं आएगी। जनता कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगे। जिनमें पेट्रेाल पंप, मेडीकल, हॉस्पिटल, लैब, राशन की दुकानें एवं अन्य ऐसी वस्तुएं जो मानव जीवन के लिए उपयोगी हैं, वह दुकानें बंद नहीं रहेंगी।