पिकनिक बैकरी संचालक के गोदाम पर प्रशासन का छापा, 25 लाख की अवैध कोल्डड्रिंक्स जप्त | Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शहर के सिटी कोतवाली क्षेत्र ग्वालियर बायपास क्षेत्र से आ रही है। जहां अवैध रूप से संचालित एक कोल्डड्रिेंक्स के गोदाम पर प्रशासन ने छापेमार कार्यवाही को अंजाम दिया है। उक्त गोदाम से प्रशासन ने अवैध रूप से रखी हुई लगभग 25 लाख रूपए की कोल्डड्रिक्स को भी जप्त किया है। उक्त गोदाम शहर में कुकुरमुत्तों की तहर पनपी पिकनिक बैकरी के संचालक का बताया जा रहा है। इस कार्यवाही से पिकनिक बैकरी की संस्थाओं में भी भय व्याप्त हो गया है।

जानकारी के अनुसार गर्मी का मौसम प्रारंभ होते ही जिले में कोल्डड्रिंंस की मांग बढने लगी है। जिसे लेकर शहर में कोल्डड्रिक्स के व्यापारी अवैध रूप से माल को खफाने के लिए एकत्रित करने में जुट गए है। इसके चलते नियमोंं को ताक पर रखकर खुले में लोगों के स्वास्थ्य से खिलबाड करते हुए कई जगह कोल्डड्रिंक्स के स्टॉक की खबर आ रही थी। जिसे लेकर एसडीएम अतेन्द्र सिंह गुर्जर की टीम ने आज छापेमार कार्यवाही को अंजाम दिया।

इस कार्यवाही में एसडीएम और खाद विभाग की टीम ने कंसाना फार्म हाउस के निकट अवैध रूप से संचालित कोल्ड ड्रिंक गोदाम पर मारा छापा मारा। इस कोल्ड ड्रिंक्स के गोदाम पर फ्रूटी एवं  कोको कोला कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर ने एसडीएम अतेन्द्र सिंह गुर्जर से शिकायत कर कार्रवाई की गुहार लगाई।

जिस पर एसडीएम अतेंद्र सिंह गुर्जर ने तुरंत एक्शन लेते हुए खाद्य अधिकारी जेएस राणा, सविता सक्सेना मैडम, नायाब तहसीलदार पवन चंदोरिया सहित कार्यवाही टीम में पटवारी को मौके पर भेजा और स्वयं भी मौके पर पहुंचे।

इस दौरान शिकायतकर्ताओ में कई कंपनी के अधिकारीमे शामिल रहे जिनमें राजेंद्र दुबे कोकाकोला से एसटीएल( सेल्स टीम लीडर अशोकनगर/ शिवपुरी), विवेक श्रीवास्तव आरजीएम(रीजनल जनरल मैनेजर) थे। जिसमें जांच के दौरान कंपनी के माज़ा, स्परिट, फेंटा, किनले सोडा, करीब 25 लाख रुपए का माल अनुमानित हैं जो कि बिना बिल और अंडर कटिंग का माल रहा। जिसमे फ्रूटी और कोकाकोला जैसे प्रमुख कोल्ड्रिंक्स शामिल रहे। इस कार्यवाही के बाद खाद अधिकारी जे एस राणा पूरे समय मौजूद रहे जिन्होंने एसडीएम के निर्देशन में कार्यवाही पूरी की।

इनका कहना है
अभी हमने जो माल गोदाम में मिला है उसकी जांच कर रहे है। साथ जिस गोदाम में माल मिला उसके बिल मंगा रहे है यदि कुछ गलत पाया जाता है तो शासन के नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।
जे एस राणा, खाद अधिकारी, शिवपुरी