जनसुनवाई: कलेक्टर मेडम प्लीज हमारी कोचिंग शुरू करवा दे ओर स्टेशनरी की रााशि भी | Shivpuri News

शिवपुरी। आज कलेक्ट्रेट में हो रही जनसुनवाई में आदिम जाति कल्याण विभाग द्धवारा संचालित एक छात्रावास के छात्र अपनी शिकायत लेकर जनसुनवाई में पहुंचे। छात्रो ने कलेक्टर मेडम से कहा कि हमे हर वर्ष की तहर इस बार स्टेशनरी राशि का नही मिली हैं,ओर परिक्षाए सर पर है हमारी कोचिंग भी शुरू नही हुई हैंं

छात्रावस में रहने वाले छात्रों ने बताया है कि वह सभी छब्बर स्कूल के पास स्थित शा.अनु जाति जन बालक उत्कृष्ट सीनियर छात्रावास में निवास कर करे है, छात्रों को हर वर्ष आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित होता हैंं,जिसके तहत छाात्रों हर साल भर के लिए पढने के लिए या तो स्टेशनरी सामान प्राप्त होता है या फिर साल भर के लिए स्टेशनरी की राशि मिलती है,जिसके चलते वह अपनी पढाई-लिखाई करते हैं। लेकिन इस वर्ष ना तो उन्हें स्टेशनरी सामान मिली है और ना ही स्टेशनरी की राशि प्राप्त हुई है।

छात्रावास में रहने वाले छात्र रणजीत ने बताया कि छात्रावास में करीब 54 छात्र रहते हैं,जिन्हें सालाना स्टेशनरी राशि के तौर पर हर छात्र को 2 हजार रूपए के रूप में मिलते हैं। लेकिन इस वर्ष किसी भी छात्र को राशि प्राप्त नहीं हुई है।

छात्रो ने बताया कि छात्रावास में जूलाई से शुरू होने वाली कोचिंग भी अभी तक शुरू नहीं हो पाई हैं जिसके चलते छात्रों की पढाई पर भी बेहद बूरा असर पडा है, कुछ छात्रों ने तो वाहर प्राई्बेट कोचिंग लगा ली हैं लेकिन कुछ छात्रों की आर्थिक स्थिती सही न होने के कारण वह कोचिंगो की फीस देने में असमर्थ हैं।

इस कारण कोचिंग से वचिंत छात्रो का पढाई पर असर पडा रहा हैं। जिससे उन्हें अपने आगामी परीक्षा की चिंता हो रही है कि उनका रिजल्ट अच्छा भी हो पाएगा या नहींं।
छात्रों ने बताया छात्रवास संचालक दिनेश चंद आदिवासी से वह इस बारे में कई बार शिेकायत कर चुके हैं लेकिन वह संचालक हर बार यह कह देता है कि इसमें हम कुछ नहीं कर सकते।

जिसके बाद छात्रों ने कई बार अधिकारी खलील बाबू जिनके पास जो छात्रावास की देख रेख करते हैं एवं आदमी आदि कल्यसण विभाग में नियुक्त हैं, से भी छात्रावास में चल रही परेशानियों की शिकायत की हैं लेकिन वे आश्वासन देकर चलता कर देते हैं।