एक महिला की copper-t के कारण पुलिस को अस्पताल आना पड़, पढ़िए क्यों?

शिवपुरी। खबर लापरवाही का ब्रांड बन चुके सरकारी अस्पताल से आ रही हैं,जहां एक प्रसूता को उसकी ओर उसके परिजनो की बिना ईजाजत के उसके यहां कॉपर टी लगा दी। इस कारण परिजनो ने हंगामा कर दिया। बताया जा रहा हैं कि इस हंगामे के बाद प्रसूता के यहां से कॉपर टी निकाल दी गई।

जानकारी के अनुसार जूली (23) पत्नी राजेश कोली निवासी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी शिवपुरी को 6 फरवरी को नॉर्मल डिलीवरी हुई थी। उसी दिन एक नर्स आई और फार्म पर जूली की सास लक्ष्मी कोली से हस्ताक्षर करने के लिए कहा। सास लक्ष्मी ने फार्म पर हस्ताक्षर करने से पहले वजह पूछ ली। नर्स ने बताया कि आपकी बहू को कॉपर-टी लगाई है। इसलिए फार्म पर हस्ताक्षर करना है।

सास ने विरोध किया और अपने बेटे राजेश को भी यह बात बताई। परिजनों के विरोध के बाद स्टाफ के लोगों ने कॉपर-टी निकालने का आश्वासन दिया। लेकिन दो दिनों से गुमराह करते आ रहे थे। प्रसूता जूली पेट में दर्द की लगातार शिकायत कर रही थी। इसी को लेकर परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया।

जिससे अस्पताल चौकी पुलिस को बुलवाना पड़ा। बातचीत के बाद प्रसूता जूली को लेबर रूम में ले जाकर कॉपर-टी निकाल दी और मामला शांत हाे गया। लेकिन यहां कॉपर-टी बिना पूछे किसने लगाई, कोई भी जिम्मेदार सामने नहीं आया और अस्पताल प्रबंधन की तरफ से भी इस लापरवाही को लेकर प्रतिक्रिया नहीं आई।