डेंडरी 108 कुण्डात्यम रूद्र महायज्ञ का भव्य शुभारंभ 13 से 23 को विशाल भण्डारा

शिवपुरी। पोहरी विधानसभा क्षेत्र के ग्राम डेंडरी में श्री श्री 1008 श्री 108 कुण्डात्यम श्री रूद्र महायज्ञ का भव्य आयोजन महाराज डाबर खो श्री-श्री 1008 ईश्वरदास जी के सानिध्य में किया जा रहा हैं। जिसकी सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। महायज्ञ का शुभारंभ 13 फरवरी को विशाल कलश यात्रा के साथ प्रारंभ होगा। जिसका समापन 23 फरवरी को पूर्ण आहुति एवं विशाल भण्डारे के साथ समापन किया जाएगा।

महायज्ञ के मुख्य यजमान गुलावचन्द्र भारद्वाज एवं समस्त आयोजकों ने जानकारी देते हुए बताया कि ईश्वर की विशेष कृपा से ग्राम डेंडरी, सिलपरी, सिलपुरा के बीच 108 कुण्डात्यम रूद्र महायज्ञ का भव्य आयोजन के लिए पिछले 3 माह से अखण्ड संकीर्तन किया जा रहा हैं। लगभग आधा सैकड़ा गांव के सहयोग से आयोजित की जा रही महायज्ञ के स्थल पर विशाल यज्ञशाला तैयार कर ली गई हैं। यज्ञशाला के अंदर 108 हवन कुण्ड वेदी के साथ पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए तैयार किए गए हैं। 14 फरवरी से प्रतिदिन हवन की आहुतियां दी वैदिक आचार्य पंडित राजकुमार वाजपेयी शास्त्री के श्रीमुख से संपन्न कराई जाएगी।

13 फरवरी से लेकर 22 फरवरी तक विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। यज्ञ स्थल पर आने जाने वाले श्रद्धांलुओं के लिए आरामदाय विशाला पांडाल तैयार किए गए हैं। स्वच्छ पेयजल के साथ अन्य व्यवस्थायें भी आयोजकों द्वारा जुटाई गई हैं।

संभवत: पहलीबार ग्राम डेंडरी में होने वाले महायज्ञ के बारे में महाराज श्री डाबर खो ने बताया हैं कि इस महायज्ञ के आयोजन के पीछे सामाजिक समरसता, भाईचारा ग्रामीण भाईयों आपसी सदभाव का वातावरण स्थापित करने एवं दूषित पर्यावरण को शुद्ध करने लिए यह भव्य आयोजन किया जा रहा हैं उन्होंने बताया कि यज्ञ संपन्न होने के बाद इस क्षेत्र में बदलाव देखने को अवश्य मिलेंगे। महाराज श्री ने क्षेत्र के नागरिकों से अपील है कि इस महायज्ञ में तन, मन, धन का सहयोग करते हुए इसे सफल बनायें।