खेड़ापति मंदिर को कब्जा मुक्त बनाने की कवायद, 20 और अतिक्रामकों को नोटिस जारी | Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी शहर के मंदिरों की जमीनों को अतिक्रामकों से मुक्त कराने के लिए प्रशाासन ने कमर कस ली है और इसकी शुरूआत खेड़ापति मंदिर की बेशकीमती जमीन से की है। अभी बीते दिनों प्रशासन ने नगर पालिका के साथ मिलकर मंदिर की जमीन पर बनी 13 दुकानों को जमींदोज किया था और अब उस जमीन पर कब्जा करने वाले 20 अतिक्रामकों को भी नोटिस जारी कर दिए गए हैं। तहसीलदार भूपेंद्र सिंह कुशवाह का कहना है कि एक-दो दिन में ही उन अतिक्रामकों को बेदखल करने की कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के अनुसार खेड़ापति हनुमान मंदिर की जमीनों पर वर्षो से कब्जा जमाकर बैठे लोगों को तहसीलदार ने नोटिस जारी कर चेतावनी दी है कि वह अपने अतिक्रमण को शीघ्र हटा ले। ज्ञात हो कि खेड़ापति हनुमान मंदिर की बेशकीमती जमीन मंदिर से जुड़े लोगों ने विक्रय कर दी थी। इसे लेकर पूर्व में एसडीएम न्यायालय में प्रकरण भी चला था।

इसके बाद उक्त कब्जाधारियों को नोटिस जारी कर दिए गए थे। लेकिन उस समय यह कार्रवाई नहीं हो सकी थी। वहां मौजूद दुकानदारों का कहना था कि उन्होंने दुकानें मंंदिर के पुजारी से खरीदी थी और उन्हें एक मुश्त राशि भी दी थी। लेकिन तहसीलदार ने उक्त मामले को संज्ञान में लेकर पुन: नोटिस जारी कर दिए हैं। अब देखना यह है कि मंदिर की बेशकीमती जमीन को प्रशासन कब्जा मुक्त कराने की कार्रवाई करता है।