एक और मासूम चढा झोलाछाप की भैंट,आखिर प्रशासन कब करेगाा कार्यवाही | Pohri News

पोहरी। खबर जिले के पोहरी कस्बे से आ रही है। जहां संचालित भारती क्लीनिक के झोला छाप चिकित्सक के यहां पर इलाज कराने आए 37 वर्षीय युवक की इस झोलाछाप ने जान ले ली। इसमें सबसे अहम बात यह रही कि इस मामले को झोलाछाप ने मैनेज कर लिया। जिसके चलते इसकी शिकायत कही नहीं की गई। जिले में लगातार एक के बाद एक लोग इन झोलाछापों की भेंट चढ रहे है। परंतु प्रशासन इन पर कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। जिसके चलते इन्हें मौत का लाइंसेंस मिल गया है। जो लगातार लोगों की जान ले रहा है।

बताया गया है कि सोहन सिंह पुत्र लालाराम यादव उम्र 37 साल निवासी जाखनौद को बीते कुछ दिनों से बुखार आ रहा था। जिसका इलाज कराने युवक पोहरी के ही झोलाछाप डॉक्टर की भारती क्लीनिक पर पहुंचा। जहां युवक ने अपना इलाज कराया। बताया जा रहा है कि उसके बाद युवक को आराम नहीं मिला तो आज वह फिर झोलाछाप के पास पहुंचा।

बताया गया है कि वहां डॉ ने इसके यहां इन्जेक्शन लगाया। जिससे युवक तडपने लगा और युवक ने तडपते तडपते दम तोड दिया। इस मामले में अपने आप को घिरता देख डॉ ने परिजनों से संपर्क किया और तत्काल परिजनों को गुमराह कर युवक का दाग लगबा दिया। जिसके चलते परिजन इस मामले की शिकायत नहीं कर पाए। 

इनका कहना है
यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। मेने इन झोलाछापों के लिए स्पेशल बोल रखा है। जिसमें इनकी जानकारी मेरे पास नहीं आई है। अगर ऐसा हुआ है तो में इस मामले को कल ही दिखबा लेती हूं। यह मामला बेहद गंभीर है।
पल्लवी बैद्य,एसडीएम पोहरी।