बस में बैठने के बाद 2 बेटियों सहित महिला गायब, पति को बाबा पर शक

शिवपुरी। खबर शिवुपरी के पोहरी रोड स्थित बस स्टैंड से आ रही हैं की एक महिला अपनी दो बेटियो साथ झांसी में जाने को सवार हुई,लेकिन वह बीच रास्ते से ही गायब हो गई। घटना 20 नवंबर की बताई जा जा रही है। इस मामले में ताजा खबर आ रही हैं कि पति ने अपनी पत्नि सहित बेटियो को गायब होने में पुलिस को गांव के ही एक बाबा का नाम बताते हुए पुलिस में शनिवार को गुमशुदगी की रिर्पोट दर्ज कराई हैं।

जानकारी के मुताबिक फरियादी भैरोंसिंह रावत निवासी ग्राम टोंगरा ने शनिवार को सिटी कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। भैरों सिंह का कहना है कि 20 नवंबर को पत्नी आरती रावत (23) और दो बेटियां रेशमा रावत (4) व आरती रावत (6) को शिवपुरी बस स्टैंड से झांसी जाने के लिए बस में बिठाया था। आरती ने झांसी स्थिति अपने जीजा सुरेश के घर से दो-तीन दिन में लौट आने की बात कही थी।

लेकिन जब वह नहीं लौटी तो झांसी फोन लगाकर पूछता तो सुरेश ने बताया कि आरती व बच्चियां तो उनके घर आई ही नहीं। भैंरो सिंह का कहना है कि 20 नवंबर को नंदकिशोर रावत उर्फ नारायणदास भी बस में बैठकर झांसी गया था। भैंरो सिंह ने अपनी पत्नी व नंदकिशोर का भी किराया दे दिया था।

नंदकिशोर से फोन लगातार पूछा तो उसने कहा कि तेरी पत्नी व बच्चियों के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है। भैंरो सिंह का कहना है कि मुझे नंदकिशोर पर शक है। पुलिस ने फिलहाल गुमशुदगी दर्ज कर मामला जांच में ले लिया है।