कोटा दोहरा हत्याकाण्ड: तीन और आरोपी गिरफ्तार, दो अभी भी फरार | Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में अभी हाल ही में हुए कोटा दोहरे हत्याकाण्ड में पुलिस ने बडी सफलता प्राप्त कर ली है। इस हत्याकाण्ड के 9 आरोपीयों को पुलिस हिरासत में ले चुकी है। जबकि इस हत्याकाण्ड के दो आरोपी अभी भी फरार है। इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने मामले की गंभीरता से जांच करने और दोषियों पर कडी कार्यवाही की बात कही है। इस मामले में जब मीडिया ने पूछा कि इन आरोपीयों के पास हथियार कहा से आए तथा इनका मास्टरमाईंड कौन था तो एसपी ने पूरे मामले में गंभीरता से हर विषय पर कार्यवाही करने की बात कही

विदित हो कि 25 नबंवर 2019 को फरियादी गोपाल सिंह पुत्र दशरथ सिंह राजावत उम्र 25 साल निवासी ग्राम कोटा थाना देहात द्वारा थाने आकर सूचना दी कि आरोपीगणो द्वारा नहर साफ करने को लेकर फरियादी पक्ष को गंदी-गंदी गाली व एक साथ होकर हमला किया और गोलियाँ चलाई जिसमें दीपक और प्रेम सिंह की गोली लगने से मृत्यु हो गई और सुल्तान सिंह , पहलवान सिंह सहाव सिंह, मुलायम सिंह घटना में घायल हो गये, सूचना पर से थाना देहात में धारा 302,307,147,148,149,294,323 भादवि का पंजीबध्द कर आरोपियो की तलाश शुरु की गई।

अति. पुलिस महानिदेशक एवं महानिरीक्षक ग्वालियर राजाबाबू सिंह के निर्देशन में पुलिस उप-महानिरीक्षक ऐ.के. पाण्डे एवं पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुये घटना स्थल का मुआयाना किया। पुलिस अधीक्षक शिवपुरी के निर्देशन एवं अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी गजेन्द्र सिंह कंवर के मार्गदर्शन एवं एसडीओपी शिवपुरी शिवसिंह भदौरिया के नेतृत्व में थाना प्रभारी देहात निरीक्षक दिलीप पाण्डे, उपनिरीक्षक राजीव दुबे, उपनिरीक्षक के.सी. शर्मा, थाना प्रभारी तेन्दुआ उनि. अरविंद सिंह चौहान, थाना प्रभारी इंदार उपनिरीक्षक रविंन्द्र सिंह सिकरवार, एडी प्रभारी उपनिरीक्षक हुकुम सिंह मीणा, सायबर सेल प्रभारी उनि. मनीष चौहान, थाना प्रभारी सुभाषपुरा उपनिरीक्षक राघवेन्द्र यादव को लेकर पुलिस टीम का गठन कर मामले में फरार आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के निर्देश दिए।

पुलिस टीम द्वारा आरोपियों को गिरफ्तारी के प्रयास जारी किये। पुलिस टीम द्वारा शहर एवं आस-पास के ईलाकों में सघन चैकिंग शुरू की। दिनांक 27.11.19 को गठित पुलिस टीम द्वारा मय बल के दबिश देकर नेशनल पार्क चिलीबहार जंगल में तालाब के पास से आरोपियों नवल पुत्र रामचरण पाल उम्र 45 साल, महेश पुत्र जगदीश बैरागी उम्र 42 साल, हरिओम पुत्र पूरन ओझा उम्र 36 साल, मुन्ना पुत्र रामचरण पाल उम्र 41 साल निवासीगण ग्राम कोटा थाना दोहात एवं प्रकाश पुत्र स्व. लोहरे पाल उर्फ देशराज पाल उम्र 43 साल, कुलदीप पुत्र प्रेमचंद ओझा निवासी ग्राम खैरोना मानिकपुर थाना कोलारस को विधिवत गिरफ्तार कर उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त अलाजरर एक देशी 315 बोर रायफल, एक देशी 12 बोर बंदूक, एक देशी कट्टा, फरसा बरामद किये जा चुके हैं।

थाना प्रभारी देहात निरीक्षक दिलीप पाण्डे द्वारा मामले में फरार अन्य आरोपियों अशोक पुत्र श्यामलाल ओझा,देवेन्द्र पुत्र गोरीशंकर बाथम ,भरत पुत्र कमरलाल धाकड की पतारसी हेतु पुलिस टीम सुभाषपुरा भेजी, इसी दौरान सूचना मिली कि घटना में फरार उक्त तीनों आरोपी गाराघाट रेस्ट हाउस के आसपास देखे गये हैं। सूचना पर पुलिस टीम थाना प्रभारी सुभाषपुरा उनि. राघवेन्द्र यादव, उनि. राजीव दुबे, आरक्षक विपिन शर्मा, आर. देवेेन्द्र मीणा, आर. विमल भौरे ,आर. सोनू गुर्जर एवं आर. भगवत, आर. मोहन एवं आर. प्रशांत के गाराघाट रेस्ट हाउस के पास बंद पड़े खण्डहरों में बने चबूतरे पर कुछ लोग आग तापते हुए दिखे।

पुलिस टीम द्वारा घेरा डालकर उक्त व्यक्तियों को दबोचकर नाम पता पूछा तो उन्होने अपने नाम अशोक पुत्र श्यामलाल ओझा ,भरत उर्फ छिंदा पुत्र वारेलाल उर्फ कमरलाल धाकड, ,देवेन्द्र पुत्र गोरीशंकर बाथम निवासीगण ग्राम कोटा का होना बताया, जिनसे उक्त घटना के संबंध मे पूछताछ की तो जुर्म स्वीकार किया। बाद पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जे से एक तलवार एवं लाठियां बरामद की। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के भरसक प्रयास पुलिस द्वारा किये जा रहे हैं।

उक्त सम्पूर्ण कार्यवाही में एसडीओपी शिवपुरी शिवसिंह भदौरिया, एसडीओपी कोलारस अमरनाथ वर्मा, एसडीओपी पिछोर देवेन्द्र सिंह कुशवाह, थाना प्रभारी देहात निरी. दिलीप पाण्डे, थाना प्रभारी कोतवाली निरी. बादाम सिंह यादव, थाना प्रभारी खनियाधाना निरी. सुधीर सिंह कुशवाह, उनि. राजीव दुबे, उनि. के.सी. शर्मा, थाना प्रभारी तेन्दुआ उनि. अरविंद सिंह चैहान, थाना प्रभारी इंदार उनि. रविंन्द्र सिंह सिकरवार, एडी प्रभारी उनि. हुकुम सिंह मीणा, सायबर सेल प्रभारी उनि. मनीष चैहान, थाना प्रभारी सुभाषपुरा उनि. राघवेन्द्र यादव, थाना देहात से सउनि बीएस जादौन, सउनि संतोष भार्गव, प्रआर. तुलाराम, आरक्षक विपिन शर्मा, रघुवीर, राहुल, वीरबल, सुमित, देवेन्द्र, भगवत, गिरजाशंकर, मनीष, मोहन ,प्रशांत तथा थाना सुभाषपुरा से आर. सत्यवीर जादौन, दवेन्द्र मीणा, विमल भौरे ,सोनू गुर्जर थाना तेन्दुआ से आर. अतरसिंह, बलवंत, भग्गू भिलाला एवं लोकेन्द्र, थाना कोतवाली से आर. देवेन्द्र, नरेश एवं रामजी पाराशर, भूपेन्द्र एवं शरद थाना इंदार से आर. अनूप हरेन्द्र, सुनील तथा सायबर टीम की सराहनीय भूमिका रही।इस सभी को पुलिस अधीक्षक ने इनाम देने की बात कही।