SHIVPURI की ANM अलका को मिला राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटेंगिल अवार्ड, राष्ट्रपति देंगे पुरस्कार

शिवपुरी। दिल्ली में आयोजित होने जा रहे राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटेंगिल अवार्ड 2019 के लिए जिला अस्पताल शिवपुरी में पदस्थ एएनएम अलका श्रीवास्तव का चयन हुआ है। स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में सबसे आगे रहने पर एएनएम अलका को यह पुरस्कार मिलने जा रहा है। नर्सिंग क्षेत्र में सबसे अच्छा काम करने वालीं नर्सों को केंद्र सरकार यह पुरस्कार देती है।

जानकारी के अनुसार जिला अस्पताल शिवपुरी में आयुष्मान योजना में तीन एएनएम का चयन किया गया था। जिसमें सतनवाड़ा ब्लॉक क्षेत्र के उप स्वास्थ्य केंद्र बारा से एएनएम अलका श्रीवास्तव भी शामिल थीं। जिला अस्पताल शिवपुरी में आयुष्मान योजना का काम संभाला। सबसे ज्यादा आयुष्मान कार्ड जारी किए।

मरीजों को इलाज मिलने के बाद मिलने वाली राशि का डाटा (टीएमएस जनरेट किए) एकत्रित किया। इसी के साथ राष्‍ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत नवजात व शिशु रोग एकीकृत प्रबंधन (आईएमएनसीआई) व अन्य स्वास्थ्य सेवाओं का काम देखा।

दिल्ली से टीम आई जिसने एएनएम के काम का जायजा लिया। एएनएम अलका श्रीवास्तव को राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटेंगिल अवार्ड 2019 के लिए सूचना प्राप्त हुई।
दिल्ली जाने के लिए अलका श्रीवास्तव को रूटचार्ट भी भेजा गया है। वह कार से ग्वालियर पहुंचेंगी और यहां से फ्लाइट पकड़कर दिल्ली रवाना हो जाएंगी। अपने साथ किसी एक व्यक्ति को साथ ले जा सकती हैं।

भारतीय नर्सिंग परिषद दिल्ली द्वारा यात्रा की व्यवस्था की जा रही है। इससे पहले विभागीय टीएम वीडियो रिकार्डिंग करने के लिए शिवपुरी आने वाली है। सीएमएचओ डॉ एएल शर्मा का कहना है कि एएनएम अलका को अवार्ड मिलना शिवपुरी जिले के लिए गौरव की बात है।

आयुष्मान मित्र चुने जाने पर भोपाल में ट्रेनिंग ली, वर्कशॉप में भी शामिल हुईं

एएनएम अलका श्रीवास्तव का चयन 23 सितंबर 2018 को आयुष्मान भारत योजना के आयुष्मान मित्र के रूप में हुआ। इसके बाद भोपाल ट्रेनिंग में भेजा गया। वर्कशॉप में भी शामिल होने पहुंची। यहां काम के तौर तरीकों को समझा। ऑनलाइन एंट्री की प्रक्रिया समझी। वरिष्ठ अधिकारियों से भी संपर्क में रहकर मार्गदर्शन लेती रहीं। इसी वजह से काम सबसे अच्छा रहा और अवार्ड के लिए चुनी गईं।