DEO की स्थानांतरण नीति के खिलाफ एकजुट अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा,सिंधिया को सौंपा ज्ञापन

शिवपुरी। अभी हाल ही में शिक्षा विभाग में शिक्षकों के तबादलो के खिलाफ अब शिक्षाविभाग के सभी राजनैतिक दल सक्रिय हो गए। सभी दलों ने अपने ही विभाग के जिला अधिकारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जिसके चलते आज अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा ने डीईओ के खिलाफ श्रेत्र के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को आज नरवर में रास्ते में रोककर ज्ञापन सौंपा है। जिसके चलते शिक्षकों के नियम विरूद्ध किए गए स्थानांतरणों को निरस्त करने की मांग की है।

सौंपे गए ज्ञापन में लिखा है कि शिक्षकों के युक्तिकरण एवं प्रशासनिक स्थानांतरण के नाम पर डीईओ ने नियमों को ताक पर रखकर स्थानांतरण किए है। प्रशासनिक स्थानांतरण के नाम पर महिला शिक्षकों को उनके पदाकिंत शाला से 90 से 100 किमी दूरे दूसरे विकासखण्ड में नियम विरूद्ध पदस्थ किया है। जबकि उनकी पदस्थ शाला के पास की शालाओं में पद रिक्त है। पोर्टल पर संकुल प्राचार्यो द्धारा कार्यरत संस्था के पास रिक्त पदों पर नियुक्ति न करते हुए द्धेश भावना से दूसरे विकासखण्डों में स्थानांतरित किया है।

कुछ पुरूष शिक्षकों को उपकृत करते हुए उन्हें शहर तथा शहर के समीप पदस्थ किया है। जिससे शिक्षा विभाग में कार्यरत कर्मचारीयों के परिजन सकते है तथा मानसिक रूप से परेशान है। जिसके चलते शिक्षकों ने ज्योतिरादित्त सिंधिया से इस स्थानांतरण को स्थगित करने की मांग की है। 

इस ज्ञापन के बाद तत्काल ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शिक्षकों की समस्या को गंभीरता से लेते हुए तत्काल कलेक्टर को बुलाकर शिक्षकों की समस्या के निराकरण के लिए कहा। जिसपर कलेक्टर ने सभी शिक्षकों को मंगलवार को अपने कार्यालयर में बुलाया है। तथा उन्होंने कहा कि समीपस्थ शालाओं पर पद रिक्त होने पर शिक्षकों को पदाकिंत किया जाएगा। इस मामले को लेकर अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा कल सण्डे को दोपहर में 2 बजे बीर सावरकर पार्क में सभी शिक्षकों की बैठक आयोजित कर रहा है।