साले के सीने में 9 गोलियां उतारकर हत्या करने वाला जीजा गिरफ्तार | Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के सुभाषपुरा थाना क्षेत्र के सेवडा के पास की है। जहां बीते 24 अक्टूबर को जीजा ने अपने दोस्त के साथ मिलकर अपनी ही पत्नि के भाई यानी साले के सीने में एक के बाद एक 9 गोलियां उतार दी। इस घटना से युवक की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई थी। इस मामले की शिकायत पीडित प्रतिभान उर्फ राजा पुत्र दशरथ सिंह सिकरवार उम्र 20 साल निवासी रणधीर काॅलोनी गोले का मंदिर ग्वालियर ने थाना सुभाषपुरा आकर सूचना दी। इस मामले के दोनों आरोपीयों को आज पुलिस ने हिरासत में लेकर न्यायालय में पेश किया। जहां माननीय न्यायालय ने उक्त आरोपीयों को जेल भेज दिया।

जानकारी के अनुसार पीडित ने पुलिस को सूचना दी कि ग्राम सेवड़ा की मार के सामने एबी रोड़ शिवपुरी जाने वाले रास्ते में आरोपी मंगल सिंह राजावत एवं भज्जू राजावत निवासीगण पाताली हनुमान मंदिर के पास हजीरा ग्वालियर द्वारा फरियादी एवं उसके दोस्त जितेन्द्र उर्फ छोटू सिकरवार उम्र 24 साल निवासी रणधीर काॅलोनी गोले का मंदिर ग्वालियर को जान से मारने की नियत से फायर किये जिससे जितेन्द्र उर्फ छोटू सिकरवार की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई।

फरियादी प्रतिभान घटनास्थल से झांड़ियों में छिपते हुए भाग गया जिससे उसको भी चोटें आईं, फरियादी की सूचना पर से थाना सुभाषपुरा में हत्या के प्रयास की धारा 302, 34 भादवि के तहत जीजा सहित उसके साथी के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया था। उसके बाद से ही आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था।

जिसपर से आज थाना प्रभारी सुभाषपुरा उपनिरीक्षक राघवेन्द्र सिंह यादव को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि उक्त घटना को अंजाम देने वाले आरोपी कार क्रमांक एमपी 07 सीएफ 8880 स्विफ्ट डिजायर से ग्वालियर से झाँसी तरफ भागने की फिराक में हैं मुखबिर सूचना पर थाना प्रभारी सुभाषपुरा द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में मुखबिर सूचना पर पुलिस टीम को तत्काल ग्वालियर रवाना किया गया, पुलिस टीम द्वारा विक्की फैक्ट्री तिराहे के आगे रेल्वे क्रांसिंग ओवर ब्रिज के नीचे ग्वालियर झाँसी रोड़ पर चकिंग शुरू की गई।

चैकिंग के दौरान कार क्रमांक एमपी 07 सीएफ 8880 स्विफ्ट डिजायर आते दिखी जिसे पुलिस टीम की मदद से रोककर चैक किया गया तो उसमें चालक और उसमें बैठे एक व्यक्ति बैठा मिला, चालक से नाम पता पूछा तो उसने अपना नाम मंगल सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह राजवत उम्र 33 साल निवासी पाताली हनुमान मंदिर के पास कांच मिल रोड़ बिरलानगर ग्वालियर एवं चालक सीट के बगल में बैठे व्यक्ति से नाम पता पूछा तो उसने अपना नाम गौरव उर्फ भज्जू पुत्र स्व. महिपाल राजावत उम्र 18 साल 6 माह निवासी पाताली हनुमान मंदिर के पास कांच मिल रोड़ बिरलानगर ग्वालियर का होना बताया।

दोनों ही आरोपी उक्त हत्या के अपराध में फरार चल रहे थे, आरोपियों से घटना के संबंध मंे पूछताछ की तो उन्होने उक्त घटना को अंजाम देना स्वीकार किया, जिनके कब्जे से एक देशी पिस्टल 2 जिंदा राउण्ड एवं कार क्रमांक एमपी 07 सीएफ 8880 स्विफ्ट डिजायर को विधिवत जप्त कर गिरफ्तार किया गया।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी सुभाषपुरा उपनिरीक्षक राघवेन्द्र सिंह यादव, सहायक उपनिरीक्षक आशीष खन्ना, सउनि आर. के. सगर, आर. सत्यवीर जादौन, देवेन्द्र मीणा, नरेन्द्र धाकड़, रणवीर शर्मा, सोनू गुर्जर, आशीष शर्मा एवं आरक्षक विमल बोहरे की सराहनीय भूमिका रही।