नेशनल पार्क में टॉयलेट करने गया युवक गायब, 2 दिन बाद बोला तेलंगाना पहुंच गया हूं | Shivpuri News

शिवपुरी। दो दिन पूर्व अपने घर से शौच करने की कहकर माधव राष्ट्रीय उद्यान की सीमा में गया फक्कड कॉलोनी निवासी एक युवक अपने घर बापिस नहीं लौटा। जिसपर परिजन युवक का इंतजार करते रहे। जब परिजनों के इंतजार की सीमा समाप्त हुई तो उन्हें चिंता सताने लगी। वह युवक को अपने परचितों के यहां खोजने लगे। लेकिन युवक का कही कोई पता नहीं चल सका।

उसके बाद पीडित परिजन इस मामले को लेकर फिजीकल थाने पहुंचे और गुमशुदगी दर्ज कराने की बात कही। लेकिन पुलिस ने उम्र, नाम पूछकर सुबह तक धीरज रखने और रिश्तेदारों के यहां तलाश करने कहा। जब रविवार को भी युवक नही मिला तो परिजन एक बार फिर फिजिकल थाने पहुंचे तो पुलिस ने इस बार उन्हें युवती के साथ भाग जाने की बात कही, जिससे परिजनों ने कहा कि उनका बेटा ऐसा नहीं है वह किसी युवती के साथ नहीं भाग सकता। परंतु पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज नहीं की और परिजनों को चलता कर दिया।

उसके बाद बीते 2 दिन बाद जब युवक सोनू पुत्र किशन रजक उम्र 22 साल का परिजनों के मोबाइल पर फोन आया और उसने बताया कि उसका किडनैप हो गया है। उसे कठमई ग्राम के पास से एक ट्रक में भैंसों को चुराकर ले जा रहे चोरो ने पकड़ लिया और हाथ, मुंह बांधकर ट्रक में पीछे पटक दिया और सीधे तेलंगाना ले आए। यह सुनते ही परिजनों के हाथ पैर फूल गए। वे थाने पहुंचे और इसकी जानकारी पुलिस को दी।

ढाबे से भागकर किया फोन

युवक के परिजनों ने बताया कि वह ट्रक में हाथ, मुह बांधकर डाला गया। एक अन्य लड़का भी इसी तरह उसके साथ डला था। जिसे वह नही जानता। सोनू के अनुसार एक ढावे पर जब ट्रक वाले खाना खाने रुके ओर इन दोनों से खाना खाने की पूछी तो सोनू ने हा? कर दी, दूसरे युवक ने मना किया। परिजनों का कहना है कि सोनू ने उन्हें बताया कि ढावे पर उसके मुंह को खोल दिया लेकिन सोनू ने खाना खाने के लिए हाथ भी खोलने बोला और हाथ जैसे ही खोले मौका पाकर वह भाग निकला फिर दूर आकर फोन किया। बाद में जीआरपी के पास पहुंचा।

इनका कहना है

युवक के अपहरण की कोई जानकारी नहीं हैं। युवक के परिजन आए थे गुमशुदगी दर्ज कर रहे हैं अभी तो मैं राउंड पर हूं। उसके बाद इस मामले की जानकारी लेकर गुमशुदगी का केस दर्ज कराकर मामले की जांच की जाएगी।
दीप्ति तोमर, थाना प्रभारी फिजिकल