सिंध उफान पर, पचावली पुल के 12 फुट ऊपर, रेशम माता जलमग्न, मडीखेड़ा पर अलर्ट जारी

शिवपुरी। पडौसी जिले गुना और अशोकनगर में हो रही लगातार बारिश के कारण शिवपुरी जिले के कोलारस अनुविभाग से निकली सिंंध नदी अपने पूरे उफान पर हैं। बताया गया हैं कि सिंध नदी पचावती के पूल के 12 फुट उपर से वह रही हैं। वही भडौता गांव में स्थित रेशम माता भी जलमग्न हो गई हैं। सिंध के उफान के कारण मडीखेडा डेम की प्यास में बुझ चुकी है और डेम पर अर्लट जारी हो चुका हैं।

जानकारी के अनुसार कोलारस अनुविभाग के अतंर्गत आने वाले देहरदा से अशोकनगर को जोडने वाला पचावली पुल पर सिंध अपने पूरे उफान से गुजर रही है। बतया जा रहा हैं कि पंचावली पुल से सिंध का पानी लगभग 12 फुट से उपर बह रहा हैं। इस कारण कई गांवो की फसले बर्बाद हो गई हैं और कई गांवो के रोड संपर्क कट चुके हैं।

वही कोलारस के पास भडौता गांव के पास् स्थित रेशममाता के मंदिर की 1 मजिंल डूबने की खबर आ रही है। सिंध में उफान आने के कारण साखनोर, अनंतपुर, पचावली, लालपुर, हरिपुर, लालपुर, लगदा,पिपरौदा, टामकी,संगेस्वर, सड, बिजरोनि आदि गांव के रोड संपर्क कट चुके है।

सिंध के लगातार उफनने के कारण मडीखेडा डेम की प्यास बुझ चुकी हैं डेम का भराव लेवल 346 के आसपास पहुंच चुका हैं। डेम प्रबंधन ने सुरक्षा के चलते डेम क्षेत्र पर अलर्ट जारी कर दिया हैं। कभी भी मडीखेडा डेम के गेट खोले जा सकते हैं।