सांसद केपी यादव ने संसद में अशोकनगर में एम्स खोलने की मांग की | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। देश के पिछड़े संसदीय क्षेत्रों में शुमार गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में जन सुविधाओं और विकास के नए आयाम स्थापित करने की गूंज अब संसद में सुनाई देने लगी है। इस संसदीय क्षेत्र में लोगों को पर्याप्त जन सुविधायें मिलें और क्षेत्र विकास की दृष्टि से भी किसी से पीछे न रहे। इस उद्देश्य के साथ क्षेत्र के युवा सांसद डॉ.केपी यादव लगातार प्रयत्नशील हैं। 

संसद में शून्यकाल के दौरान सांसद केपी यादव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का बिना नाम लिए कहा कि गुना संसदीय क्षेत्र से व्हीव्हीआईपी सांसद अभी तक इस क्षेत्र से चुने जाते रहे हैं, फिर भी क्षेत्र में मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। उन्होंने कहा कि देश विरोधी नारा लगाने वालों का साथ देने वाले क्षेत्र की जनता के दुखदर्द को नहीं समझ सके, इसी का परिणाम है कि गुना संसदीय क्षेत्र पिछड़े क्षेत्रों में शुमार है।

शुक्रवार को संसद सत्र के दौरान गुना-अशोकनगर और शिवपुरी में जन सुविधाओं और उद्योग-कालेज, सिंचाई परियोजनाओं के मुद्दों की गूंज सुनाई देती रही। सांसद डॉ.केपी यादव ने संसद में स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष अशोकनगर में स्वास्थ्य सुविधायें बेहतर बनाने के लिए एम्स अस्पताल की शाखा खोलने की पुरजोर तरीके से मांग रखी।

सांसद डॉ.केपी ने अपनी मांग रखते हुए कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में तीन जिले गुना,अशोकनगर और शिवपुरी आते हैं, जिनमें आठ विधानसभायें शामिल हैं। क्षेत्र की 20 लाख जनसंख्या है और 17 लाख मतदाता हैं। इस इतने बढ़े क्षेत्र में डेढ़ से दो सौ किमी तक कोई मल्टी स्पेशल अस्पताल नहीं है।

जिससे मरीजों को भोपाल, इंदौर, कोटा आदि स्थानों पर उपचार कराने जाना होता है। क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए अशोकनगर में एम्स अस्पताल की शाखा खोलने की मांग संसद में सांसद द्वारा रखी गई।

इससे पूर्व उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह को संबोधित करते हुए कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में रोजगार के साधन न होने के कारण युवाओं को पलायन करना पड़ रहा है। गुना संसदीय क्षेत्र कृषि प्रधान क्षेत्र होने के नाते यहां कृषि आधारित उद्योग और सिंचाई परियोजनाओं को बढ़ावा दिया जाए। तथा यहां कृषि महाविद्यालय स्थापित किया जाए।