बंदर सामने आए, बाईक फिसली सिर में चोट लगने से मौत, काश हेलमेट होता | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। झांसी फोरलेन रोड पर अमोला के पास बाइक फिसल जाने से नवदंपति घायल हो गए। बाद में पति की सिर में गंभीर चोट लगने से मौत हो गई। अन्य बाइकों से पीछे आ रहे लोगों ने बताया कि इस्लाम ने हादसे से करीब 15 मिनट पहले ही हेलमेट उतारकर अपने दूसरे साथी को दे दिया था। यदि वह ऐसा नहीं करता तो संभवत: सिर में चोट गहरी नहीं लगती और जान बच जाती।

मृतक अपनी पत्नी के साथ शिवपुरी के ईदगाह पर आयोजित शादी सम्मेलन में शामिल होने आ रहा था। हादसे के बाद शादी की खुशियां मातम में बदल गईं।

जानकारी के मुताबिक इस्लाम पुत्र बदरुद्दीन निवासी झांसी अपनी पत्नी नगीना को लेकर बाइक से शिवपुरी आ रहा था। अमोला फोरलेन पुल पार करने के बाद जैसे ही घाटी शुरू हुई, सामने अचानक बंदर आ गया। बंदर की वजह से बाइक अनियंत्रित होकर सड़क से फिसलते हुए किनारे तक चली गई। पत्थरों से इस्लाम के सिर में गंभीर चोट लग गई।

पीछे आ रहे साथियों ने इस्लाम को शिवपुरी जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां गंभीर हालत के चलते ग्वालियर रैफर कर दिया। बताया जाता है कि एंबुलेंस के सतनवाड़ा पहुंचने से पहले ही इस्लाम ने दम तोड़ दिया। वहीं सिर में चोट लगने से पत्नी नगीना अभी घायल है।

अस्पताल में साथी बोले- काश! हेलमेट उतारकर नहीं देता तो बच जाती जान
इस्लाम के घायल होने के बाद जिला अस्पताल में अन्य साथी अफसोस जताते नजर आए। उन्होंने बताया कि हादसे से करीब पंद्रह मिनट पहले इस्लाम ने अपना हेलमेट दूसरी बाइक पर आ रहे साथी को दे दिया, जबकि इस्लाम झांसी से हेलमेट पहनकर शिवपुरी के लिए पत्नी के साथ निकला था। काश! हेलमेट पहने रहता तो, इस्लाम की जान बच सकती थी।

4 माह पूर्व हुई थी मृतक की शादी
मृतक इस्लाम की नगीना से 11 मार्च 2019 को शादी हुई थी। शिवपुरी में ईदगाह पर रविवार को शादी सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। इसमें इस्लाम की भतीजी सहित अन्य रिश्तेदारों के जोड़े भी शादी के लिए आए थे। पति-पत्नी दोनों बहुत खुश थे। इस्लाम की मौत की खबर लगने पर परिजन व रिश्तेदारों में मातम छा गया।






Virus-free. www.avg.com