नोटिस मिलने से घबराए चपरासी ने अस्पताल में बरपाया आतंक, जमकर की तोड़फोड़ | KOLARAS, SHIVPURI NEWS

कोलारस। खबर जिले के कोलारस अनुविभाग के कोलारस कस्बे से आ रही है। जहां आज सुबह एक चपरासी ने अपने ही कार्यालय मे शराब के नशे में धुत्त होकर जमकर तोडफोड की। इस मामले की सूचना कार्यालय अधीक्षक ने अपने अधीनस्थ अधिकारीयों को दी। जहां जिले की टीम ने मौके पर पहुंचकर कार्यवाही की बात कही।

जानकारी के अनुसार कोलारस पशु चिकित्सालय में पदस्थ चपरासी सिरनाम आदिवासी आए दिन कार्यालय से बिना बताए अनुपस्थिति रहता था। जिसे लेकर हॉस्पीटल से जिला कार्यालय में उसकी अनुपस्थिति भेज दी। इस अनुपस्थिति के बाद जिला कार्यालय से उक्त चपरासी के नाम नोटिस आ गया। इस नोटिस के बाद चपरासी ने अपना आपा खो दिया और सुबह सुबह शराब के नशे में धुत्त होकर पशु चिकित्सालय पहुंच गया।

वहां जाकर शराब के नशे में उक्त चपरासी ने लोहे की रोड से अस्पताल में तोडफोड कर दी। इस दौरान डॉक्टर अजीत यादव, केके धाकड और दूसरा चपरासी अमन परिहार भी उपस्थिति थे। इस मामले की सूचना तत्काल वरिष्ठ अधिकारीयों को दी जहां जिले की टीम मौके पर पहुंचने की बात कह रही है।

प्रभारी भी नहीं पहुंचते कार्यालय
आज इस घटनाक्रम के बाद मचे हंगामे के बाद जब शिवपुरी समाचार डॉट कॉम की टीम अस्पताल पहुंची तो वहां पता चला कि इस अस्पताल में प्रभारी से भी पब्लिक परेशान है। वहां उपस्थिति लोगों का आरोप है कि प्रभारी वीईओ सीएस बाथम महीनों तक कार्यालय नहीं पहुंचते। वह अपने पूरे काम शिवपुरी अपने घर से ही संचालित करते है। जब पब्लिक उन्हें फोन लगाती है तो वह फोन उठाना तक उचित नहीं समझते।