ITBP जवानों ने किया गणेश कुंड से कचरा साफ: जेनिथ लीगल एड क्लीनिक ने की शुरू की मुहिम | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शहर के नालों से होकर निकलने वाली गंदगी जाधव सागर से होते हुए चांदपाठा और माधव लेक तक पहुंच रही है। जाधव सागर से चांदपाठा के बीच नाले में गंदगी भारी मात्रा में है जिसमें पॉलीथिन कचरा अधिक है। जनहित में काम कर रहे एनजीओ जेनिथ लीगल एड क्लीनिक ने झील संरक्षण के लिए 1 जून से मुहिम की शुरुआत की है। मुहिम के दूसरे दिन रविवार को आईटीबीपी शिवपुरी के 25 जवान सफाई कार्यक्रम में शामिल हुए।

भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के सिग्नल ट्रेनिंग स्कूल शिवपुरी के उप महानिरीक्षक राजकिशोर शाह के निर्देश पर सहायक उप निरीक्षक दूर संचार यादवेंद्र सिंह साथ जवानों ने सुबह 6 बजे से इस सफाई अभियान में हिस्सा लिया। एनजीओ के वालेंटियर्स के साथ जवानों ने करीब 5 ट्रॉली पॉलीथिन इकट्ठा की। गौरी गणेश कुंड से लेकर नाले के आसपास जमा पॉलीथिन कचरे को बाहर निकाला। कचरा इकट्ठा कर नगर पालिका को सूचना दी गई। कचरे को ट्रेचिंग ग्राउंड पर फिंकवाया जा रहा है।

10 जून तक मुहिम चलेगी, फिर साप्ताहिक सफाई होगी

शिवपुरी में एनजीओ के अभय जैन और ग्वालियर के स्वप्निल अपने अन्य साथियों की मदद से मुहिम को चला रहे हैं। जिसमें स्कूल व कोचिंग के बच्चे, वालेंटियर्स की मदद ली जा रही है। सुबह और शाम दोनों समय यह सफाई अभियान 10 जून तक जारी रहेगा। स्वप्निल बताते हैं कि वे आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को न्याय दिलाने में मदद करते हैं। लोगों की समस्याओं को भी प्रशासन के पास ले जाते हैं। उनकी संस्था साल 2015 से काम कर रही है।

प्रशासन व नपा को जिम्मेदारी का अहसास कराएंगे

जेनिथ लीगल एड क्लीनिक के लीगल कोऑर्डिनेटर स्वप्निल का कहना है कि पहले लगातार अभियान चलाकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं क्योंकि शहर में उनके द्वारा की जाने वाली गंदगी जाधव सागर से होकर चांदपाठा व माधव लेक पहुंचती है। यहीं से शहर में पानी की सप्लाई होती है। आने वाले सालों में लोग गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाएंगे। साथ ही प्रशासन और नगर पालिका को भी उनकी जिम्मेदारी का एहसान कराना है। तभी झील संरक्षण अभियान सफल हो पाएगा।