जयकिशन शर्मा पत्रकार सम्मान समारोह, शहर में पत्रकारिता के क्षेत्र में निडर काम करने वाले पत्रकार हुए सम्मानित | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। पत्रकार स्व. जयकिशन शर्मा की 9 वी पुण्यतिथि के अवसर पर विशेष कार्यशाला एवं सम्मान समारोह का आयोजन सनराईज होटल में किया गया। जिसमें शहर के वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद भार्गव ने कहा कि जनप्रतिनिधि और पत्रकार एक दूसरे के पूरक हैं इन्हें सेतु जैसा कार्य करना चाहिए क्योंकि पत्रकार भी समाजिक गतिविधियों के माध्यम से आईना दिखाने का कार्य करते हैं और राजनेता भी सामाजिक गतिविधियों को आगे बढ़ाते हैं जब एक दूसरे में सामंजस्य की भावना होगी तो को कार्य ऊंचाई छूएगा।

उन्होंने कहा कि पूर्व में भी ऐसा ही होता चला आया हैं जिससे शिवपुरी की पत्रकारिता का आज भी प्रदेश में नाम जाना पहचाना जाता है। उन्होंने पहले पत्रकारिता में निर्डरता की भावना इसलिए हुआ करती थी क्योंकि हमारा संगठन प्रेस क्लब किसी भी लड़ाई लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहता था जिससे पत्रकारों में निर्डरता की भावना बनी थी, लेकिन अब संगठनों की महत्वता समाप्त हो गई हैं क्योंकि संगठनों में सदस्यों की संख्या भी बहुत हो गई और उनकी भावना भी बदल गई है।

वहीं वरिष्ठ पत्रकार आलोक एम इंदौरिया ने अपने इस कार्यक्रम के आयोजक लालू शर्मा को साधुवाद देते हुए कहा कि उन्होंने स्व. जयकिशन जी के नाम पर यह समारोह शिवपुरी की एक अच्छी परंपरा की नीव डाली हैं। इस सम्मान से उत्साहित होकर युवा पत्रकार और वेहतर कार्य करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के भाईयों को खबर डालने से पूर्व उसके तथ्यों की पुष्टि जरूर कर लेना चाहिए ताकि पत्रकारों की विश्वसनीयता पर आंच न आ सकें।

पत्रकार वीरेन्द्र भुल्ले ने कहा कि आज कि इस कार्यशाला के माध्यम से और जयकिशन की निर्डर पत्रकारिता से सीख लेना चाहिए क्योंकि पहले जयकिशन शर्मा जैसे निर्डर पत्रकारों ने अपने लेखनी के माध्यम से मुख्यमंत्रियों को रास्ता बदलने के लिए विवश कर दिया था। आज उनकी पुण्यतिथि पर नए पत्रकारों को संकल्प लेकर अपने पत्रकारिता के कार्य को गति प्रदान करना चाहिए। पत्रकार अशोक कोचेटा ने कहा कि भले जयकिशन की योग्यता कम थी लेकिन उन्होंने हमेशा तर्क पूर्ण पत्रकारिता करते थे जिससे समाज में उन्होंने एक अलग पहचान बनाई थी। इसी कारण वह चाहे किसी अधिकारी हो या राजनेता जहां कोई प्रश्न पूछना होता तो वह निर्डर होकर पूछ लेते थे।

इसलिए आज उनका नाम निर्डर पत्रकारिता के लिए जाना पहचाना जाता हैं। कार्यशाला को संबोधित करते हुए पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त राजू बाथम ने संबोधित करते हुए कहा कि आज के इस युग में भौतिक वादी और राजनैतिक युग में यदि कोई भी पुत्र अपने पिता की पुण्यतिथि मनाता हैं और दूसरों को भी उनके चरणों पुष्प अर्पित कराता हैं यह बहुत परंपरा है। साथ ही उन्होंने पत्रकारों को मजबूत करने की बात भी कहीं। इस अवसर पर अजय गौतम, डॉ.अजय खैमरिया, डॉ. एचपी जैन, डॉ. शैलेन्द्र गुप्ता, सहित अन्य वक्ताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

साथ ही कार्यक्रम के संयोजक लालू शर्मा ने भी अपने पिता के चरणों में पुष्प अर्पित कर कहा कि मैं अपने पिता के नाम को कभी भी नहीं झुकने दूंगा और इस कार्यक्रम को आगे भी अनबरत रूप से जारी रखूंगा।

इस अवसर पर मंचासीन लोगों में नगर मंडल अध्यक्ष भानू दुबे, भाजपा के जिला उपाध्यक्ष हेमंत ओझा, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष श्रीप्रकाश शर्मा उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन नेपाल सिंह बघेल द्वारा किया गया एवं आभार प्रदर्शन राजकुमार शर्मा ने किया। इस अवसर पर मंचासीन अतिथियों का उपस्थित समस्त पत्रकारों एवं राजनैतिक लोगों ने शॉल श्रीफल भेंट कर सम्मान किया। इस अवसर पर पत्रकारों के साथ शहर के जनप्रतिनिधि, व्यवसायी, गणमान्य नागरिका उपस्थित थे।

इन पत्रकारों का किया सम्मान

पत्रकार जयकिशन शर्मा सम्मान समारोह कार्यक्रम के तहत पत्रकार प्रमोद श्रीवास्तव, संजीव बाझल, उमेश भारद्वाज, रंजीत गुप्ता, देवेन्द्र समाधिया, अशोक अग्रवाल,  अभय कोचेटा, परवेज खांन, शिवपुरी समाचार डॉट कॉम के स्थानीय संपादक ललित मुदगल, मनोज भार्गव, राजू यादव, के.के. दुबे, विजय शर्मा, रोहित मिश्रा, भूपेन्द्र नामदेव, बदरवास से संजीव जाट, किरण शर्मा स्वदेश, पूनम पुरोहित, यशपाल छोटू, देवेन्द्र शर्मा नरवर, योगेन्द्र जैन पोहरी, फरान काजी शामिल हैं।

पत्रकार अजय खैमरिया का मनाया जन्म दिन

पत्रकार जयकिशन शर्मा सम्मान समारोह एवं कार्यशाला के अवसर पर पत्रकार आलोक एम इंदौरिया ने बताया कि हमारे अनुज अजय खैमरिया का आज जन्म दिन हैं। उसी दौरान वहां मौजूद मंचासीन अतिथियों एवं पत्रकार बन्धुओं ने माला पहनाकर एवं शॉल श्रीफल से सम्मान किया।