SHIVPURI NEWS - महिला शिक्षक का रिश्वत का मामला, उत्तर प्रदेश से जुड रहे है तार,कॉल पर सस्पेंड करने की धमकी

Bhopal Samachar
बदरवास। शिक्षा विभाग भोपाल से फर्जी अपर सचिव बनकर बदरवास ब्लॉक के स्कूलों में पदस्थ शिक्षकों को लगाए फोन कॉल लगाने वाले लोगों तक पुलिस की जांच टीम को अहम सुरागों का पता लगा है और इस दिशा में शीघ्र ही खुलासा होने की उम्मीद है।


बदरवास ब्लॉक में सोमवार को अपने आप को शिक्षा विभाग का अपर सचिव बताकर फोन कॉल लगाने और शिक्षकों को धमकाने का मामला सामने आया था जिसमें से सूखा राजापुर विद्यालय में पदस्थ शिक्षिका रामदेवी से उक्त कॉल करने वाले ने 20 हजार रुपए धमकी देकर ऑनलाइन फ़ोन पे से ट्रांसफर करा लिए थे।शिक्षिका रामदेवी द्वारा फर्जी कॉल करने और 20 हजार रुपए ऐंठने वाले के खिलाफ दर्ज कराई गई एफआईआर की जांच में बदरवास ब्लॉक के रन्नौद पुलिस के हाथ महत्वपूर्ण सुराग लगे हैं जिसकी जांच जारी है और शीघ्र ही पुलिस इस मामले का खुलासा करने की स्थिति में आती जा रही है।


साइबर सेल से मिले महत्वपूर्ण सुराग
बदरवास के रन्नौद पुलिस थाने में दर्ज शिकायत और एफआईआर के आधार पर पुलिस ने साइबर सेल से फर्जी फोन कॉल करने और फोन पे के माध्यम से ट्रांसफर कराए गए मोबाइल नंबर सहित शिक्षिका के मोबाइल नंबर और अकाउंट नंबर की जानकारी मांगी गई थी जिसमें इस मामले में पुलिस के हाथ महत्वपूर्ण जानकारियां लगी है और इसके आधार पर पुलिस जांच कर रही है और शीघ्र ही इस मामले की खुलासा होने की उम्मीद है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस ठगी के तार उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से जुड़े होने की संभावना है और पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ लगातार जांच जारी है जिसका शीघ्र ही इस मामले की परतें खुलने की उम्मीद है।


पीड़ित शिक्षकों ने दी विभाग को जानकारी
शिक्षा विभाग के फर्जी अपर सचिव बनकर फोन कॉल के शिकार शिक्षक शिक्षिकाओं ने जनपद शिक्षा केंद्र में अपने साथ हुई इस घटना की जानकारी दी है और किस प्रकार फर्जी कॉल करने वाले ने धमकी दी और धमकी से डरकर पैसे इस व्यक्ति ने ट्रांसफर करा लिए इन सबकी जानकारी विभाग में दी है।सभी शिक्षकों द्वारा बदरवास बो एवं बीआरसी को जिन शिक्षकों के पास फर्जी कॉल आए थे उनके द्वारा एक शिकायती आवेदन अपने विभाग को दिए गए हैं

इनका कहना है
हमारे द्धारा साइबर सेल से फर्जी कॉल के माध्यम से अपर आयुक्त द्धारा जिन नम्बरो को उपयोग किया गया एवं जिस फोन पे उपयोग किया गया उन तीन नंबर की सीडीआर कैफ रिपोर्ट आ गई है उसी आधार पर काम हमारे द्वारा किया जा रहा है जो उत्तर प्रदेश से है और जिस बैंक अकाउंट का उपयोग फोन पे किया था उसकी डिटेल भी शीघ्र पहुच जाएगी
अरविंद चौहान, थाना प्रभारी रन्नौद

G-W2F7VGPV5M