SHIVPURI NEWS - राम को अनलॉक करने के लिए निंदा प्रस्ताव पारित कर कलेक्ट्रेट के घेराव की तैयारी

Bhopal Samachar
शिवपुरी। शिवपुरी में राम को अनलॉक करने के लिए अमोला पंचायत अधिकारियों का निंदा प्रस्ताव पारित कर कलेक्ट्रेट को घेरने की तैयारी कर रही है। 22 जनवरी को जहां पूरा देश में राम नाम की सुनामी उठ रही थी,ऐसे में शिवपुरी में विस्थापन का दंश झेल रहे भगवान राम को एक अदना सा दीपक नसीब नहीं हुआ था,इसी दर्द के कारण अब अमोला पंचायत भगवान राम परिवार की प्रतिमाओ की प्राण प्रतिष्ठा लेकर प्रस्ताव लाया जाऐगा।

पुराने अमोला से विस्थापित हुए भगवान राम को प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर अब सिरसौद पान पंचायत में प्रस्ताव लाया जाएगा, ताकि भगवान का वनवास समाप्त हो सके। अमोला गांव के विस्थापन के डेढ़ दशक बाद भी भगवान की प्राण प्रतिष्ठा नहीं होने को लेकर पंचायत में निंदा प्रस्ताव पास करवा कर कलेक्ट्रेट घेरने की बात स्थानीय सरपंच द्वारा कहीं गई है।

उल्लेखनीय है कि पुराने अमोला के डूब क्षेत्र में आने के उपरांत यहां पर भगवान राम के मंदिर को नया अमोला में विस्थापित किया गया था और विस्थापन के लिए बकायदा मुआवजा भी दिया गया, परंतु विस्थापन के 16 साल बाद भी भगवान की प्राण प्रतिष्ठा नहीं हुई है और भगवान की राम परिवार की प्रतिमा एक दुकान में लॉक करके रखी है। मूर्तियों पर मकड़ी के जाले लग गए है। 22 जनवरी को जब पूरे देश में राम दिवाली का उत्सव मनाया जा रहा था,ऐसे समय में भी प्रतिमाओं की सुध नहीं ली और एक दीपक भी प्रतिमाओं को अर्पित नहीं किया। जब पंचायत के सरपंच अतर सिंह लोधी से बात कर यह जानने का प्रयास किया कि पंचायत द्वारा भगवान की प्राण प्रतिष्ठा के लिए क्या प्रयास किए गए हैं।


इस पर अतर सिंह लोधी का कहना था कि भगवान अभी भी अमोला क्रेशर में रखे हुए हैं, हमने प्रशासनिक अधिकारियों से कई बार मूर्ति उनके सुर्पुद करवाने के लिए कहा था,लेकिन अधिकारियों ने कोई ध्यान नहीं दिया।
इसके अलावा हमें प्रशासनिक अधिकारियों ने विस्थापन के एवज में मिलो राशि भी उन्हें प्रदान नहीं की थी, ऐसे में हम मंदिर को स्थापना और भगवान की प्राण प्रतिष्ठा नहीं करवा पाए हैं। बकौल सरपंच अतर सिंह लोधी इस बार हम गणतंत्र दिवस पर होने वाली ग्राम पंचायत में पहला ठहराव प्रस्ताव भगवान राम के मंदिर को स्थापना और भगवान की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर ही लाएंगे।

प्रशासनिक लापरवाही को लेकर निदा प्रस्ताव पास कर कलेक्टर साहब एक ले जाएंगे। सरपंच का कहना है कि अगर अब भी प्रशासन भगवान की प्राण प्रतिष्ठा नहीं करवाता है तो हम ग्रामीणों को लेकर आने वाले दिनों में कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे।

हाथ खड़े कर दें तो हम करवा लें स्थापना

सरपंच के अनुसार अगर प्रशासन यह कह दे कि हम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा नहीं करवा पाएंगे तो हमें स्पट कर दे और हमारी मूर्तियों हमें दिलवा दें। हम पंचायत स्तर और जन सहयोग से चंदा करके भगवान राम का वनवास खत्म कर उन्हें मंदिर में स्थापित करवा लेंगेए ताकि भगवान की पूजा अर्चना समय पर होती रहे।
G-W2F7VGPV5M