कंटेनर में पीछे से जा घुसा ट्रक, स्टेरिंग में फसा ड्रायवर 4 घंटे तक दर्द से चीखता रहा: मदद को कोई नही आया- Shivpuri News

बदरवास।
खबर शिवपुरी जिले के कोलारस अनुविभाग के बदरवास थाना सीमा से मिल रही है कि बदरवास कस्बे की नई तहसील के सामने बुधवार-गुरुवार की रात लगभग साढ़े तीन बजे एक कंटेनर में पीछे से एक ट्रक जा घुसा। ट्रक की रफ्तार इतनी तेज थी की ट्रक की केबिन बुरी तरह कुचल गई और ड्राइवर स्टेरिंग मे फस गया। ड्राइवर के सहयोगियों ने डायल 100,स्वास्थ्य विभाग की 108 ओर हाईवे का मददगार नंबर 1033 पर लगातार कॉल किए लेकिन मदद को कोई नहीं आया,बताया जा रहा है कि ड्राइवर 4 घंटे तक स्टेयरिंग में फंसा रहा,दर्द से तड़पता रहा,लेकिन मदद के लिए कोई नही आया।

जानकारी के अनुसार बदरवास की नई तहसील के पास हाइवे पर ट्रोला एमपी 33 एच 2216 खडा हुआ था आधी रात के समय गुना की ओर से आ रहे ट्रक क्रंमाक एमपी 09 एच जे 9125 कंटेनर में पीछे से जा घुसा। इस भिंडत इतनी तेज थी कि ट्रक का ड्रायवर संजीव कोली निबासी ईसागढ़ जिला अशोकनगर ट्रक की स्टेयरिंग में जा फसा। बताया जा रहा है कि ड्रायवर 4 घंटे इसी अवस्था मे फसा रहा और दर्द से चिल्लाता रहा,लेकिन कोई भी उसकी मदद के लिए नही आया। घटना के सुबह 5 बजे जैसे ही पुलिस को सूचना मिली बदरवास थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई थी,लेकिन संस्थान की नही होने के कारण वह भी कुछ नही कर सकी।

मीडिया पहुंची तो ड्राइवर दर्द से चिल्ला रहा था

सुबह इस मामले की जानकारी शिवपुरी समाचार के बदरवास के रिपोर्टर संजीव जाट को मिली तो वह मौके पर पहुंचे तो ड्राइवर संजीव कोली ड्राइवर सीट पर फंसा हुआ था एवं दर्द से तड़पता रहा था लोगों से मदद की गुहार लगा रहा था। ग्राउंड जीरो पर पहुचे रिर्पोटर को वहां उपस्थित लोगों ने बताया कि लगातार डायल 100 एंबुलेंस को 108 पर कॉल किया जा रह है लेकिन अभी तक नही आई।

एनएचएआई के टोल फ्री नंबर पर 1033 पर कॉल भी कर रहे थे तो रिस्पांस नहीं मिल रहा था,उसके बाद रिपोर्टर ने पूरनखेडी टोल के मैनेजर सोनू गोस्वामी को कॉल किया तो उन्होने मदद के लिए टोल की एंबुलेंस और दो क्रेन घटना स्थल पर पहुंची। क्रेन के मदद से ड्राइवर को निकाला गया। जिसे एंबुलेंस की मदद से बदरवास के स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया,जहां उसका इलाज जारी है

इनका कहना है
मामला गंभीर है अगर टोल प्रबंधन के द्वारा इस तरह की लापरवाही की जा रही है या उनका जो टोल फ्री नंबर है उस पर कोई रिस्पांस नहीं मिल रहा है इसकी जांच कराई जाएगी जो भी जिम्मेदार है उस दोषी के Bank कार्रवाई की जाएगी
गणेश राय,प्रभारी एनएचएआई गुना शिवपुरी

मैं देख पाता हूं कि आखिर दो 108 बदरवास में है पर उन पर रात्रि के समय MT नहीं है अगर ऐसा है तो उनके ऊपर कार्रवाई की जाएगी एवं और नहीं है तो उनकी व्यवस्था की जाएगी
पवन जैन जिला स्वास्थ्य अधिकारी शिवपुरी

डायल 100 पर तैनात कर्मचारियों के मोबाइल क्यों स्विच ऑफ थे या क्यों रिस्पांस नहीं मिला इस पूरे मामले की जानकारी ली जा रही है एवं जो भी मामला है दिखा दिखा रहा हूं अगर दोषी हैं तो उनके ऊपर कार्रवाई हेतु पत्र लिखा जाएगा
विजय यादव SDOP कोलारस

share this



कृपया हमें फॉलो/सब्सक्राइब कीजिए