Shivpuri News- उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक, कठिनाई और विकास पर कलेक्टर ने व्यापारियों से यह कहा

शिवपुरी।
किसी भी क्षेत्र के विकास में उद्योगों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। यदि उद्योग विकसित होंगे तो रोजगार के अवसर भी सृजित होंगे। शिवपुरी जिले में उद्योग की संभावना और कठिनाइयों और जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयास के संबंध में चर्चा के लिए उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक आयोजित की गई।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने कहा कि अब शिवपुरी जिले में पर्यटन की संभावना बढ़ रही है। कूनो नेशनल पार्क में चीता आने के बाद अब जल्द ही माधव नेशनल पार्क में टाइगर आने की संभावना है जिससे जिले में पर्यटकों का आवागमन बढेगा। पर्यटन उद्योग भी उद्योगपतियों के लिए महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। सभी इस दिशा में भी सोचे।

बैठक में उपस्थित उद्योगपतियों से चर्चा करते हुए कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने उनकी कठिनाइयों को भी जाना। बैठक में उपस्थित अन्य विभागों जिसमें विद्युत खनिज नगर निगम जीएसटी विभाग के अधिकारियों को भी प्रक्रिया को सहज सरल रखने के निर्देश दिए। जिससे नए उद्योग स्थापित करने के लिए समस्या ना आए।

इसके अलावा शिवपुरी जिले में करैरा क्षेत्र में मूंगफली उद्योग की बेहतर संभावना है। उच्च गुणवत्ता की मूंगफली होने के कारण इसकी ग्रेडिंग और सोर्टिंग के बाद उसे विदेशों तक में निर्यात किया जा सकता है।

बैठक में उपस्थित उद्योग विभाग के महाप्रबंधक और उद्यानिकी विभाग को आपसी समन्वय से एक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए हैं जिसमें विभिन्न विभागों को भी जोड़ा जाए और प्रशिक्षण में विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाए जिससे कि उद्योगपति को सब्सिडी आदि के बारे में बताया जाए।
बड़ौदी और करैरा क्षेत्र में इंडस्ट्रियल एरिया है।

जिसमें इंडस्ट्री स्थापित करने के लिए प्लॉट आवंटित किए गए हैं जहां अभी तक काम शुरू नहीं हुआ है आवंटन निरस्त करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा जहां अभी समयावधि शेष है उसकी भी मॉनिटरिंग करें और अभी तक कोई काम शुरू नहीं किया गया है इस संबंध में नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं।