Shivpuri News- 30 हजार की रिश्वत लेने वाली कोलारस तहसीलदार ज्योति लक्षकार सस्पैंड: खबर का असर

शिवपुरी। अपनी आफिस ओर सरकारी गाड़ी रिल्स बनाकर वायरल करने वाली कोलारस की प्रभारी तहसीलदार ज्योति लक्षकार को प्रभारी मंत्री नरेन्द्र सिंह सिसोदिया ने सस्पेंड कर दिया करते हुए जांच के आदेश दिए है। कोलारस की प्रभारी तहसीलदार का कार्यप्रणाली विवादित रहती है। मैडम को रिल्स वायरल करने का शौक है। तहसीलदार ज्योति लक्ष्कार को अपने साथ 4 बाउंसर लेकर चलती है। इन्ही बाउंसरों ने इस मामले के आवेदक विक्रम राजावत का ट्रैक्टर का घर से अपहरण कर ले गए और बीच रास्ते में रिश्वत की डील हुई और 30 हजार रुपए लेकर रिहा कर दिया।

मुरम से भरा टेक्टर विक्रम राजावत का था। विक्रम राजावत ने इस मामले में लुकवास सरंपच भाजपा के जिला मंत्री नेता हरिओम रघुवंशी सहित एसडीएम कोलारस से शिकायत की थी। शिकायत के बाद ज्योति लक्षकार ने विक्रम राजावत को फोन किया था जिसमें मैडम उस पर दबाव बनाने की कोशिश की थी,रिल्स बनाने की शौकीन मेडम की यह ठसाई भरी आडियो वायरल हो रही थी। इस मामले को शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने आज सुबह की बुलेटिन में सबसे पहले इस खबर का प्रकाशन किया था। इस मामले में भाजपा नेता हरिओम रघुवंशी ने मांग की है डॉक्टर का अपहरण करने वाले मेडम के प्राइवेट बाउंसर जिसका चेहरा पेट्रोल पंप के कैमरे में कैद हुआ है उस पर भी मामला दर्ज होना चाहिए।

यह था मामला: शिवपुरी समाचार ने किया था प्रकाशित

दरअसल खुरई रोड पर निवासी विक्रम राजावत ने बताया था कि वह शनिवार की शाम को खरई खदान से मुरम ट्रैक्टर ट्रॉली में लाया था कोलारस तहसीलदार ज्योति लक्षकार अपने साथ 5 लोगों को लेकर मेरे घर आई मुझे तहसीलदार ने अपने वाहन में बिठा लिया और मेरा ट्रैक्टर लेकर चल दिए रास्ते में ट्रैक्टर का डीजल खत्म हो गया तो यह लोग मुझे पास में स्थित पेट्रोल पंप ले गए यहां से तहसीलदार ने अपने वाहन में 1000 का डीजल डलवाया 1 कैन में डीजल लेकर ट्रैक्टर में डीजल डाला।

इसके बाद तहसीलदार व उनके साथ आए कर्मचारियों ने मुझसे ट्रैक्टर छोड़ने के एवज में 50 हजार की मांग की बाद में 30 हजार लेने के बाद तहसीलदार ने मुझे व मेरे ट्रैक्टर को छोड़ दिया मामले में विक्रम ने पेट्रोल पंप सहित बाजार के सीसी फुटेज भी उपलब्ध कराए हैं जिसमें तहसीलदार का वाहन मेरा ट्रैक्टर दोनों दिखाई दे रहे हैं पीड़ित ने घटना के बाद लुकवासा सरपंच पति व भाजपा मंत्री हरिओम रघुवंशी सहित एसडीएम कोलारस बृज बिहारी लाल श्रीवास्तव से शिकायत कर तहसीलदार पर कार्रवाई की मांग की थी।

आज शिवपुरी दौरे पर आए प्रभारी मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया के सामने जब यह मामला आया तो प्रभारी मंत्री ने इस मामले में कड़ा रुख अपनाते हुए कोलारस तहसीलदार ज्योति लक्षकार को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए इस मामले की जांच के आदेश दिए है।