शिवपुरी में 12 नवंबर दिन के 12 बजे रच जाएगा विश्व कीर्तिमान, महा तैयारी शुरू- Shivpuri News

शिवपुरी।
जानकी सेना संगठन के तत्वाधान में होने जा रहे विश्व ऐतिहासिक कीर्तिमान सुंदर कांड को लेकर बृहद स्तरीय तैयारियों ने तीव्र गति पकड़ ली है। तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में जिसमें लोगों से सुंदरकांड में आने का आह्वान किया जा रहा है।

कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए महामंडलेश्वर पुरुषोत्तम दास महाराज एवं विक्रम सिंह रावत राष्ट्रीय अध्यक्ष ने संयुक्त रूप से जानकारी देते हुए बताया कि पोलो ग्राउंड के पूरे मैदान को कवर किया जा रहा है जिसमें 10 कंपार्टमेंट बनाए जा रहे हैं जिसमें जानकी वाटिका, किष्किंधा पर्वत, हनुमानगढ़ी, कौशल्या धाम, लव कुश वाटिका, अवधपुरी, विश्वामित्र तपोवन, वाल्मीकि तपोवन, कंपार्टमेंट को नाम दिए गए हैं, जहां पर पत्रकारों के लिए अलग से नारद वाटिका के नाम से बैठक व्यवस्था की गई है।

जिसमें सिर्फ पत्रकार ही बैठ सकेंगे इन सभी कंपार्टमेंट में सीनियर सिटीजन, महिला ,बच्चे एवं परिवारों के बैठने की अलग व्यवस्था की जा रही है। 20,000 से अधिक संख्या के लोगों को बैठने के लिए दोनों और दीर्घा व्यवस्था की गई है जहां पर बैठकर वह सुंदरकांड का आनंद ले सकते हैं यानी सभी की सुविधाओं का ध्यान रखा जा रहा है।

दो सौ फुट चौड़ा महामंच तैयार किया जा रहा है जिस पर ऊंची गद्दी पर हनुमान जी महाराज मुख्य अतिथि के रूप में विराजमान होंगे। यहां पर वाहन से आने वाले लोगों के लिए 10 जगहों पर पार्किंग स्थल की व्यवस्था की गई है जिसमें कृष्णा मैरिज गार्डन, सिया मैरिज गार्डन, लवकुश मैरिज गार्डन, ट्रैक्टर एवं बसों के लिए गांधी पार्क मैदान नगर पालिका परिसर में जेएसएस महिला सदस्यों के लिए पार्किंग व्यवस्था इसके अलावा जनपद कार्यालय एवम ट्रेजरी ऑफिस क्षेत्र में जेएसएस व्यवस्थापक एवं जेएसएस सदस्यों के चार पहिया एवं दो पहिया वाहनों के लिए पार्किंग व्यवस्था रखी गई है।

ऐतिहासिक विश्व कीर्तिमान सुंदरकांड व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए व्यवस्था में रहने वाले सभी संगठन सदस्यों के लिए सफेद रंग का परिधान निश्चित किया गया है। 12 नवंबर को दोपहर 12 बजकर 12 मिनट पर विश्व कीर्तिमान सुंदरकांड प्रारंभ होगा जो 1:45 पर समापन होगा। तत्पश्चात हनुमान जी महाराज की महा आरती का आयोजन रखा गया है। कार्यक्रम में शिवपुरी शहर के अलग-अलग कोनों से ढोल धमाकों के साथ लोगों द्वारा पोलो ग्राउंड पहुंचने की व्यवस्था की जा रही है।