नपा में सांप कर रहा था सामान की रक्षा:नपा की किचन कैबिनेट ने पकड़ लिया, सामान हुआ खराब- Shivpuri News

शिवपुरी।
शिवपुरी नगर पालिका में पूर्व में हुई परिषद की बैठक में कुछ पार्षदों ने शहर के वार्डों में लाइट लगवाने को लेकर काफी विवाद किया था जिस पर बीते रोज ठेकेदार से नगर पालिका अध्यक्ष सहित विद्युत की स्टोर प्रभारी द्वारा लाइट का सामान मांगने की बोला और कहा कि स्टोर में कोई भी लाइट का सामान उपलब्ध नहीं हैं।

जिसका स्टॉक रजिस्टर दिखा और उसमें साफ शब्दों में सामग्री निल लिखा था जिसको नगर पालिका अध्यक्ष गायत्री शर्मा ने देखा और अपने पीआईसी के सदस्यों के साथ जब स्टोर का ताला खुलवाया तो उसमें 400 वॉट के बल्ब लगभग 300 पीस और टू रोड वाली लगभग 40-50 चौक की सामग्री रखी मिली। इससे साफ जाहिर हो गया कि यह अधिकारी नगर पालिका में किस तरह भ्रष्टाचार को अंजाम देने में लगे हुए हैं।

इन सबकी मिलीभगत होने के कारण यह लोग शहर विकास में बाधक बन रहे हैं। पिछले तीन माह से वार्ड पार्षद अपने वार्डों में प्रकाश व्यवस्था के लिए नपा अध्यक्ष से बार-बार गुहार लगा रहे हैं, लेकिन जब नपा में सामग्री रखी होने के बाद भी इनको लगाने में क्या आपत्ति हो रही हैं।

यह सबसे बड़ा सवाल हैं जब सामग्री स्टोर में रखी हुई है तो फिर रजिस्टर में क्यों निल दिखा रहे हैं, इतना ही नहीं सुलभ शौचालय का प्लास्टिक का सामान भी स्टोर में रखा-रखा खराब हो रहा हैं इस ओर भी किसी का कोई ध्यान नहीं हैं।

पीआईसी सदस्यों ने कहा कि हम सांप को ही भगाने आए हैं

नगर पालिका में विद्युत सामग्री ठेकेदार सप्लाई की और बीते रोज दोपहर 2 बजे के करीब नपा में सामान पहुंचा तो नपाध्यक्ष ने सामग्री रिसीव करने के बाद स्टोर का निरीक्षण किया तो वह वहां गंदगी देखकर स्तब्ध रह गईं।

जिस पर उन्होंने स्टोर प्रभारी अब्दुल अकबर कुर्रेशी और याशिका जैन से सवाल जवाब किया। जिस पर स्टोर के अधिकारियों ने सर्प होने का बहाना बनाया और कहा कि इसमें सर्प हैं जिस पर पीआईसी सदस्यों ने कहा कि हम सांप को ही भगाने आए हैं और स्टोर में प्रवेश कर गए।

फिर क्या, बारीकी से निरीक्षण किया और सब मामला उजागर हो गया और सारे सामान को सील कर दिया गया, और नए सामान की सुपुर्दगी पीआईसी सदस्यों ने ली जिसमें 300 चौक और 150 बल्ब 70 वाट के, 150 वाट के बल्ब कुल संख्या में लगभग 300 बताए गए हैं जो स्टोर प्रभारी को सुपुर्द किए लेकिन स्टोर में न रखते हुए यशपाल जाट के सुपुर्द किए गए हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि कहीं न कहीं नपा अधिकारियों में स्वयं सामंजस्य नजर नहीं आ रहा हैं।

पार्षद की मौजूदगी के बिना नहीं लगेगी स्ट्रीट लाइट: नपाध्यक्ष

नगर पालिका अध्यक्ष गायत्री शर्मा ने वार्ड वासियों की शिकायतों को ध्यान में रखते हुए एक नई पहल की शुरूआत की है। उन्होंने कहा है कि अभी तक कर्मचारी अपनी मनमर्जी से कहीं भी लाइट लगा देते थे। उन्हें यह भी शिकायतें प्राप्त हुई थीं कि कुछ कर्मचारी अपने चहेते लोगों को उपकृत करने के लिए उनके घरों के आगे लाइट लगा देते है।

जिससे जिस स्थान पर लाइट की आवश्यकता थी वहां लाइटें नहीं लग पाती थी। इसे देखते हुए उन्होंने कर्मचारियों को निर्देश दिया कि जिस वार्ड में भी लाइट लगाई जाए उस वार्ड के पार्षद को पहले सूचित किया जाए और उन्हें मौके पर बुलाकर उनकी मौजूदगी में लाइटें लगाई जाएं।