नवरात्रि: दुल्हन की तरह सजाया गया शहर को,आकर्षण का केन्द्र रहेगा मां वैष्णो का दरबार- Shivpuri News

शिवपुरी।
आज सोमवार से 9 दिनों तक चलने वाले नवरात्रि महोत्सव की शुरुआत हो गई है। सुबह से ही शहर के प्राचीन राजराजेश्वरी, कैला देवी और काली माता मंदिर पर भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया। वहीं शहर के विभिन्न स्थानों पर मां दुर्गा की प्रतिमाओं की स्थापना पंडाल लगाकर की गई। मां को इन पंडालों तक ढोल ताशों की धुनों के साथ लाया गया और विमानों में अबीर गुलाल उड़ाया गया।

शहर के फिजिकल क्षेत्र में लौटी रौनक

शिवपुरी जिले में मूर्ति कला का गढ़ बन चुका शहर के फिजिकल क्षेत्र में एक बार फिर रौनक लौटी है। यहां जिले भर के लोग अपने अपने पंडाल में माता की मूर्ति स्थापित करने के लिए प्रतिमाओं की खरीदारी के लिए पहुंच रहे हैं। इस बार मां की कई तरह की मूर्तियां बनाई गई हैं। जिसमें ज्यादातर शेर पर सवार मां की प्रतिमा भक्त खरीद रहे हैं।

जिले सहित दूरदराज के क्षेत्रों में भी मां की प्रतिमा स्थापित की जा रही है और वह लोग भी शिवपुरी प्रतिमा खरीदने आ रहे हैं। मां के विमानों के निकलने से यातायात भी प्रभावित हुआ है। जिसके चलते भीड़ भी लग रही है और जाम की स्थिति भी बन गई है। जिसे ठीक करने के लिए यातायात पुलिस तैनात है।

रात्रि में होंगे मां वैष्णो देवी के दर्शन

मां वैष्णो दरबार उत्सव समिति द्वारा सुआलाल के बाड़े में प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी मां वैष्णो देवी का दरबार सजाया गया है। जहां आज सुबह विधि विधान के साथ मां के दरबार की स्थापना की गई है और रात्रि में मां के दर्शनों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। समिति के सदस्यों ने माधव चौक चौराहे से कोर्ट रोड तक के रास्ते को दुल्हन की तरह सजा दिया है।

माधव चौक चौराहे पर आकर्षक विद्युत साज सज्जा की गई है। वहीं माधव चौक से लेकर कोर्ट रोड तक आकर्षक झालरें सड़क के दोनों ओर लगाई गई हैं। वहीं हनुमानगढ़ी के मुख्य द्वार पर भव्य प्रवेश द्वार बनाया गया है। जिसमें प्रवेश कर भक्त वैष्णो देवी के दरबार में पहुंचेंगे। दरबार में गुफाओं के साथ-साथ 9 देवियों और भैरवनाथ का दरबार भी सजाया गया है।