अभी तक नही हुआ विवेक भार्गव की हत्या का खुलासा, घर मे घुसकर मार दिया था- Shivpuri News

शिवपुरी। बीती 25 जुलाई की आधी रात शहर के देहात थाना क्षेत्र में आने वाले बडे बाजार के पास स्थित जैन मंदिर के पास निवासी करने वाले विवेक भार्गव की हत्या हुई थी। विवेक की लाश घर में ही मिली थी। मृतक की हत्या सिर पर पत्थर से कुचलकर की गई थी। इस घटना को आज 83 दिन 1992 घंटे 119520 मिनट हो चुके हैं,लेकिन विवेक भार्गव के हत्यारे पुलिस की पहुंच से दूर हैं,पुलिस की अगर काम करने की यह गति रही तो ऐसा प्रतीत होता हैं कि हत्यारे स्वयं चलकर थाने आऐेगें।

जैसा कि विदित हैं कि बड़ा बाजार जैन मंदिर के पास एक घर में दो भाई विवेक भार्गव उम्र 46 साल और संयम भार्गव उम्र 40 साल निवास करते थे। दोनों भाइयों के माता पिता का कुछ वर्ष पूर्व की देहांत हो चुका था और दोनों भाइयों की शादी भी नहीं हुई थी दोनों भाई कोई काम धंधा भी नहीं करते थे। बीते रात विवेक भार्गव की उस वक्त घर में हत्या कर दी गई जब उसका छोटा भाई संयम भार्गव घर पर नहीं था।

मृतक विवेक भार्गव के छोटे भाई संयम भार्गव ने बताया कि वह बीते शाम 7.30 बजे के लगभग घर से निकला था पहले वह सिद्धेश्वर मंदिर गया जिसके बाद वह सुरेश सोनी के घर पर टीवी देखने लगा रात्रि के करीब 11.00 बजे वह अपने घर पर लौटा तो अंदर जाकर देखा कि भाई की लाश पड़ी हुई थी लाश के पास खून से लथपथ एक पत्थर पड़ा हुआ था जिससे उसकी हत्या की गई गई थी।

पैसों के लेन-देन पर हुई हत्या

संयम भार्गव ने बताया कि उसके पिता ग्राम काना खेड़ी में मंदिर के पुजारी थे जहां उनकी जमीन थी उक्त जमीन को उन्होंने बटाई से कौशल पुरी गोस्वामी निवासी कना खेड़ी को दे रखी थी कौशल पुरी गोस्वामी ने 55 हजार रु सालाना बटाई के हिसाब से पैसे वर्ष 2017 से नहीं दिए थे जिसको लेकर उसके भाई और उसका कौशल पुरी गोस्वामी से विवाद चल रहा था संयम भार्गव ने भाई के हत्या का संदेश संतोष माथुर को भी बताया है।

परिवार के नाम पर दोनों भाई थे अकेले,नहीं हुई थी शादी

मृतक विवेक भार्गव और संयम भार्गव दोनों ही नशे के आदि थे यही वजह रही कि दोनों की शादी भी ना हो सकी थी घर के बाहर तीन दुकानों के किराए के बलबूते पर यह अपना खर्चा चलाते थे मृतक विवेक भार्गव दांत निकालने का भी काम सीखा हुआ था जब कभी उसके घर पर ही कोई पीड़ित आ जाता था।

इनका कहना हैं
मामले की जांच चल रही है, इस मामले में संदिग्ध लोगों के साथ पूछताछ जारी है और मामले का जल्द ही खुलासा होगा
विकास यादव,देहात थाना प्रभारी,शिवपुरी