शिवपुरी की धरा पर उतरेंगें अफ्रिकन चीते, 5 हैलीपेड बनाने की योजना: PM कर सकते है प्रोजेक्ट का श्रीगणेश- Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी के जंगलों की सीमा मे घुसा श्योपुर में कूनो नेशनल पार्क अब अफ्रिकन चीते आने का इंतजार कर रहा हैं। कूनो में नेशनल पार्क में चीता की चाल को तेंदूओ ने रोक रखा था,5 तेंदुओ में 4 तेंदुओ का रेस्क्यू कर शिवपुरी के माधव नेशनल पार्क में छोड दिया गया हैं। अब अफ्रीकी चीतों की राह आसान हो गई हैं।

बताया जा रहा हैं कि साउथ अफ्रीका की चीता एक्सपर्ट टीम के 5 सितंबर को कूनो आने की उम्मीद है। टीम की रिपोर्ट के बाद ही नामीबिया से 8 चीते भारत लाने का रास्ता साफ हाेगा। मध्य प्रदेश सरकार 17 सितंबर को कूनो में चीतों को लाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बर्थ.डे गिफ्ट देना चाहती है। इसे ध्यान में रखकर ही कूनो में तैयारी की जा रही है।

मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाल में चीता ट्रांसलेशन प्रोजेक्ट की समीक्षा कर अधिकारियों को काम में तेजी लाने को कहा था। मुख्यमंत्री कूनो में चीतों को छोड़ने के प्रोजेक्ट का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कराना चाहते हैं। एक अधिकारी का यह भी दावा है कि पीएम मोदी के दौरे के लिए सुविधाजनक डेट की मांग करते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय से PMO को पत्र भेजा गया है।

वन विभाग के प्रमुख सचिव अशोक वर्णवाल और सचिव एनटीसीए के सदस्य सचिव एसपी यादव ने गुरुवार को कूनो का भ्रमण किया था। ग्वालियर एयपोर्ट से चीतों को सड़क के अलावा हवाई मार्ग से लाने के विकल्प को देखते हुए शिवपुरी में 3 हैलीपेड बनाने का निर्णय लिया था, लेकिन अब VVIP के लिए 2 और हैलीपैड बनाने की तैयारी है। राज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) जेएस चौहान ने बताया कि चीतों को कूनो में बसाने की तैयारी लगभग पूरी हो गई है। चीते कब तब आएंगे, इसकी फिलहाल जानकारी नहीं है, क्योंकि यह केंद्र सरकार और परियोजना में शामिल दो देशों के बीच का मामला है।

भारत में 70 साल बाद फिर से चीतों को बसाने की कवायद में नया पेंच आ गया था। साउथ अफ्रीका ने भारत के सामने शर्त रख दी है कि कूनो नेशनल पार्क से तेंदुओं को हटाओ। इसके बाद एक प्रतिनिधिमंडल जांच करने आएगा। इसके बाद चीतों की शिफ्टिंग के लिए एमओयू होगा। यह जानकारी पिछले सप्ताह नामीबिया में भारत लाए जाने वाले 8 चीतों की निगरानी कर रहे अफ्रीका के प्रिटोरिया विश्वविद्यालय में प्रो. एड्रियन ट्रोडिफ ने मीडिया को दी थी।

चीतों के बाड़े से निकाले गए 4 तेंदुए

श्योपुर के संभागीय वन अधिकारी प्रकाश वर्मा ने बताया कि चीतों के बाड़े वाले इलाके से चौथे तेंदुए को निकल दिया गया है। पांचवें का पता लगाने और उसे जल्द ही बाड़े से बाहर निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं। वर्मा ने कहा कि निगरानी के उद्देश्य से बाड़े और उसके बाहर आठ पिंजरे व 100 से अधिक ट्रैप कैमरे लगाए गए हैं। यहां प्रशिक्षित हाथियों और ढोल बजाने वालों को भी तैनात किया गया है।

50 से ज्यादा है शिवपुरी में तेंदुए

माधव नेशनल पार्क में बीते कुछ महीने पहले की तेंदुओं की गणना की गई थी। उस समय तेंदुओं की संख्या का आंकड़ा 50 से ज्यादा निकालकर आया था। इसके अलावा, नेशनल सीमा के बाहर भी तेंदुओं को कई बार देखा गया है।

जहां जिले के नरवर तहसील के जिन्ना क्षेत्र में अक्सर तेंदुए को देखा जाता रहा है। यह क्षेत्र हालांकि नेशनल पार्क की सीमा से सटा हुआ है। मगर, इस इलाके में अक्सर तेंदुए घूमते देखे गए हैं।