बड़ी खबर: मध्याचंल ग्रामीण बैंक के टूटे ताले, कैमरे फोडे, DVR तक ले गए चोर- Pohri News

पोहरी। खबर जिले के पोहरी थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम परिच्छा से आ रही हैं कि ग्राम परिच्छा में स्थित मध्यांचल ग्रामीण बैंक के बीती रात्रि अज्ञात बदमाशों ने ताले तोड़कर बैंक में प्रवेश कर गए। बदमाशों ने अपनी पहचान छुपाने के लिए सीसीटीवी कैमरे की DVR निकाल ले गए। गनीमत यह रही है कि बैंक के कैश रूम के गेट को देखकर बदमाशो की हौसले पस्त हो गए। और वह सिर्फ एलसीडी ओर DVR ले जाने मे ही सफल रहे।

पोहरी थाने में पोहरी में मध्याचंल ग्रामीण बैंक के शाखा प्रबंधक आशुतोष अवस्थी पुत्र दिनेश अवस्थी उम्र 35 साल निवासी बी 92 आनन्द नगर ग्वालियर हाल निवासी जगदीश यादव का मकान ग्राम परीछा थाना पोहरी में आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि आज सुबह परिच्छा में स्थित मध्याचंल ग्रामीण बैक के कर्मचारी ने मुझे कॉल करके बताया कि बैंक की शटर के ताले टूटे हुए हैं और शटर आधा खुला हुआ हैं। इसकी सूचना पवन ने डायल 100 को भी दी।

इसके बाद मै अपने बैंक के स्टाफ के साथ ग्राम परिच्छा पहुंचा तो देखा कि बैंक की मुख्य शटर आधा उठा हुआ था। शटर को संबल से तोडा गया इसके बाद शटर के अंदर लगी कैंची का ताला भी टूटा हुआ था,जब तक घटना स्थल पर डायल 100 भी पहुंच चुकी थी। इसके बाद पुलिस सहित बैंक कर्मियों ने बैंक के अंदर प्रवेश किया।

बैंक के अंदर चोरों ने सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए एवं सीसीटीवी का डीवीआर और एलसीडी स्क्रीन चोर अपने साथ ले गए। बैंक मैनेजर ने बताया कि बैंक से रुपए चोरी नहीं हुए हैं। बताया जा रहा है कि बैंक की नकदी एक मजबूत तिजोरी में रखी जाती है और इस तिजोडी के लिए केश रूम अलग से बना है। केश रूम पर एक मजबूत गेट लगा है,इस गेट को देखकर चोरो के हौसले पस्त हो गए और वह बैंक में रखी नकदी रकम तक नहीं पहुंच पाए।

माना जा रहा है कि बैंक में आधी रात प्रवेश करने वाले बदमाश लोकल के है कोई पेशेवर गैंग नही थी,नहीं तो वह गेट को काटने के लिए गैस कटर का अवश्य उपयोग करते। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और इस मामले की जांच शुरू कर दी है,लेकिन इस घटना से पुलिस के मुखबिर तंत्र और गश्त व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे है अगर कैश रूम का गेट मजबूत नहीं होता तो बैंक में नगदी चोरी का दाम पुलिस के माथे पर लग जाता।