चुनावी रंजिश: खेत पर सो रहे सरपंच पद के प्रत्याशी पर हमला, मरणासन्न स्थिति में छोडा- Shivpuri News

शिवपुरी में चुनावी रंजिश को लेकर सिरसौद थाना क्षेत्र के कुंवरपुर गांव में बीती रात खेत पर सोने के लिए गए 65 वर्षीय बुजुर्ग श्रीगिर गोस्वामी पुत्र जसराज गोस्वामी पर कुछ बदमाशों ने लाठी-डंडों से हमला कर दिया।

पिटाई करने के बाद हमलावर मौके से निकल गए, सुबह खेत पर पड़े मरणासन्न हालत में बुजुर्ग को पास के खेत के किसान ने देखा, जिसकी सूचना तत्काल परिजनों को दी गई। मौके पर पहुंचे परिजन बुजुर्ग श्रीगिर गोस्वामी को शिवपुरी के जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां बुजुर्ग का इलाज जारी है।

श्रीगिर गोस्वामी में पुत्र गोपाल गोस्वामी ने बताया कि उसके पिता रात में खेत की रखवाली करने घर से 3 किलोमीटर दूर खेत पर सोने के लिए गए हुए थे। जिन पर रात 9 बजे के लगभग संतोष रावत, जगदीश रावत, महेंद्र रावत, नार सिंह रावत, उत्तम रावत और होतम पाल सहित उनके साथियों ने जानलेवा हमला बोल दिया।

उसके पिता को आरोपियों ने बेहरहमी पीटा, जिसके बाद मरा हुआ समझ कर खेत पर छोड़ कर भाग निकले। इसका पता उन्हें सुबह 8 बजे पड़ोसी खेत मालिक की सूचना के बाद लगा। गोपाल गोस्वामी ने बताया कि उसके पिता खेत में मरणासन्न हालत में पड़े हुए थे, जिन्हें खेत पर पड़ी खटिया पर लिटाकर तीन किलोमीटर पैदल चलने के बाद कुंवरपुर गांव लाए, जिसके बाद उन्हें शिवपुरी के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

चुनाव हारने के लिए बदला

गोपाल गोस्वामी ने बताया कि उसका भाई कुंवरपुर ग्राम पंचायत से सरपंची का चुनाव लड़ा था, इसके साथ ही उत्तम रावत सहित ललित शर्मा भी चुनाव लड़े थे, इस चुनाव में ललित शर्मा की जीत सुनिश्चित हुई, जिसके बाद उत्तम रावत दूसरे स्थान पर रहा और उसका भाई कृपाल गिरी तीसरे स्थान पर रहा था।

उत्तम रावत अपनी हार का कारण हमारे परिवार को मान रहा था, उत्तम रावत ने जान से मारने की धमकी भी दी गई थी। इसी रंजिश के तहत उत्तम रावत ने उसके पिता को अकेला पाकर अपने साथियों के साथ मौत के घाट उतारने की साजिश रचते हुए बीती रात खेत पर सोए हुए पिता पर जानलेवा हमला बोल दिया।

सिरसौद थाना प्रभारी राजेन्द्र शर्मा का कहना है श्रीगिर गोस्वामी के मामले में 8 लोगों के खिलाफ बलवा सहित हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।